Comments & Ratings: 💞मेरा ज़नूने-शौक है, या हद है प्यार की💞
Next >>
Yash (S) Suresh ये तो शायद पुरुषोत्तम अब्बी 'आजर' की कविता है जी।
936 days ago

Yash (S) Suresh Rating: 5
936 days ago

Chandni ✨ॐ🙏' 💞 धन्यवाद आप सभी मित्रों का !आप इसी तरह हौसला देते रहें और मैं आपके स्नेह को सार्थक सिद्ध कर सकूँ. आपकी इन नेक शुभकामनाओ के लिए आभारी हूँ !आपका स्नेह ही
मेरा सामर्थ्य है. सादर और ससम्मान नमन
983 days ago

Chandni ✨ॐ🙏' Rating: 10
983 days ago

upendra Singh मोहब्बत की चादर में......
लिपटे हुए अफसाने..!!

दोस्त तो दोस्त.........
दुश्मन भी हमारे दीवाने..!!!
मोहब्बत की चादर में......
लिपटे हुए अफसाने..!!
984 days ago

upendra Singh Rating: 10
984 days ago

removed nice
984 days ago

removed Rating: 10
984 days ago

a bhatt हर तरफ फैली हुई है चांदनी ही चांदनी =
= जैसे वो खुद साथ हैं उनकी जवानी साथ है==
984 days ago

a bhatt Rating: 8
984 days ago

VeeCee Washin.. बहुत खूब लिखा है >>तेरे बिना सूनी लगे, रौनक बहार की
984 days ago

VeeCee Washin.. Rating: 10
984 days ago

anand anand Beautiful
984 days ago

anand anand Beautiful
984 days ago

anand anand Rating: 9
984 days ago

dr op sharma Mera Junune showk hai ya Had hai pyar ki..... BAHOOT KHOOB, Bahut achhi Rachana hai !!!
984 days ago

dr op sharma Rating: 10
984 days ago

ashok _*❤ॐ माना कि शोभा रखता है, कैक्टस का फ़ूल भी
लेकिन चुभन, महसूस की है, मैंने ख़ार की

***** Dardbhari hai lekin bahut Khubsurat panktiya pyare mitr.
Bha gayi !
984 days ago

ashok _*❤ॐ Rating: 9
984 days ago

Chandra prakash Dil kab toota tha?
984 days ago

Chandra prakash Rating: 10
984 days ago

razackabdul r.. Good lines.
984 days ago

razackabdul r.. Rating: 10
984 days ago

Rajendra Pratap Excellent
984 days ago

Rajendra Pratap Rating: 10
984 days ago

a bhatt रस्सी भी "चांदनी " बट चुकी गरदन पे दार की ==बहुत खूब अच्छा लिखा है सभी कुछ ठीक है आखीरी लाइन को जरा तीक करें आप बहुत सलीके से आगे लिखतीं हैं
984 days ago

N J O N ( Nic.. Nice one....madam
984 days ago

N J O N ( Nic.. Rating: 7
984 days ago

Next >>