Writings

Most Recent : Poem
Submit your own.  My Writings
Browse
Most Viewed
Top Rated
Most Recent

Category
All
Joke
Poem
Recipe
Other

Write your own
score: 9.05634

average: 8.0

on: Jun 24, 2020
ratings: 1

language: hi

कैसे कह दूँ, मुझको उससे प्यार नहीं है
मरता है दिल जिस पर,उसका इंतज़ार नहीं है

खोयी-खोयी रहती हूँ, जिसके दीदार में
हर पल, तनहा दिल उसका बीमार नहीं है

दोनों जहाँ हारे जिसकी मुहब्बत में,उसके
सुख-दुख से हमारा कोई सरोकार नहीं है

वही तो है मेरी अफ़कार,अशआर की दुनिया
उसके सिवा, दूसरा कोई ख़तावार नहीं है

बेशकीमती है यह गमगाही मुहब्बत, मगर
बिके जहाँ में, बना ऐसा कोई बाज़ार नहीं है

कैसे कह दूँ कि मुलाकात नहीं होती है
रोज़ मिलते हैं मगर बात नहीं होती है

आप लिल्लाह न देखा करें आईना कभी
दिल का आ जाना बड़ी बात नहीं होती है

छुप के रोता हूँ तेरी याद में दुनिया भर से
कब मेरी आँख से बरसात नहीं होती है

हाल-ए-दिल पूछने वाले तेरी दुनिया में कभी
दिन तो होता है मगर रात नहीं होती है

जब भी मिलते हैं तो कहते हैं कैसे हो "शकील"
इस से आगे तो कोई बात नहीं होती है
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.37792

average: 10.0

on: Jun 22, 2020
ratings: 3

language: hi

(hastye rotye usk gam mujh d d
sotye jagtye usk jakham mujh d d
uski tasvir hi meri duniya ki khuwaish h
ab jeetye martye usk bharam mijh d d)


(khuwaisho n meri umid ko bhadaya h
khuwaisho n meri ajmaish ko sataya h
main rota hu bin usk
qki khuwaisyo n meri wafa ko jalaya h)


(hume bhi khuwaish h usk sath kadam s kadam chalne ko
hume bhi khuwaish h uski god m sher rakh kar shone ko
main mita nahi y khuwaishyein lekar
qki hume bhi khuwaish h uski bahoo m simatne ko)


(jinda h jndg qki tu mujhm jinda h
y khuwaisyein mujhm din raat jagti hain
sharminda h jndg qki tu mujhm sharminda h
y khuwaiahyein mujhm sham sawerye marti hain)


(usm jab-2 simti gharaiya
tab-2 mohobat n khuwaishyein jagai
usm jab-2 mili sokhiya
tab-2 mohobat n khiwaishyein bhulai)




(hain khuwaishyein
rhayengi khuwaishyein
usk lotne ki yaado m
bhul gaya jis din y dil khud ko
us din s
thi khuwaishyein
rhayeingi khuwishyein
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.43918

average: 10.0

on: Jun 10, 2020
ratings: 4

tags: poem
language: hi

Koi kasar na chodi thi, mashle ko hal karne me,,
Fir bhi chal raha hoon, shikayato ka bojh uthate-uthate,,
.....Bahoot koshis ki is , jalim duniya ne rulane ki,,
.....Fir bhi chal raha hoon, palko pe aansu sukhate-sukhate,,
Bahoot baar sataya , in risto ki shajisho ne,,
Fir bhi chal raha hoon, dil pe marham lagate-lagate,,
.....Kashoorwar nahi thaharya, ab tak tumne mujhko,,
.....Fir bhi chal raha hoon, tumse najare churate-churate,,
Bahoot see baate tumhari, samjh se pare hai meri,,
Fir bhi chal raha hoon, tumhari haa me haa milate-milate,,
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 0

by: Saloni
average: 0

on: Mar 21, 2020
ratings: 0

language: hi

कविता हमे रच रही है
ज़िन्दगी के रंगों के साथ सज रही हैं
कभी बचपन
कभी जवानी
कभी बुढ़ापा
हर पल सीख दीखलाई जा रही है
और
हर वक़्त सीखाई जा रही है
यह जीवन की कहानी है
तन्हाइयों से भरी हुई है
मेरी कलम की स्याही कुछ अनकही दर्द की वाते कह रही है
कभी खुशी के अक्षू निकल रहे है
जैसे पहले कविता को सजा रहे है
हर शब्द रच रहे है
यूं ही शब्दों के साथ खेलते जा रहे है
कविता हमे रच रही है
यह सच है
मन को जांच रही है
सलोनी
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.37792

by: Saloni
average: 10.0

on: Mar 7, 2020
ratings: 3

language: hi

अब नहीं बेचारी नारी,
प्रीत से भरी नारी,
ममता की सूरत है नारी।

कौन कहता है की अबला
है नारी,
हर क्षेत्र में अव्वल
पुरुष के साथ पग-पग,
कंधा मिलाए है नारी।
समुद्र से आकाश,
थल से पहाड़ तक,
अपना संघर्ष दिखाया है,
अपने परिश्रम से,
ददेश को हर बार ऊपर उठाया है,
सलोनी के कलम से सारी नारियों को प्रणाम।
🌹🌹🌹
🌺🌺🌺
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 0

average: 0

on: Mar 4, 2020
ratings: 0

tags: friends
language: hi

मैं कहीं लापता हो गया हूँ
शायद आपका हो गया हूँ

खुद को नज़र आता नहीं
मैं कोई हादसा हो गया हूँ

पहुँचोगे कैसे मुझ तक
मैं खोया पता हो गया हूँ

तुझे पाकर तो लगता है
खुद से यूं जुदा हो गया हूँ

वफ़ा ढ़ोते ढ़ोते आखिर दम
शायद बेवफ़ा हो गया हूँ

दिलवर मुझे इतना बता दे
तेरा मैं क्या क्या हो गया हूँ
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 0

average: 0

on: Mar 4, 2020
ratings: 0

tags: friends
language: hi

कुछ लोग भी हमसे इस कदर खफ़ा हैं
या तो वो बेवफ़ा या हम बेवफ़ा हैं !!

नब्ज देख कर बता देता है वो हबीब
मेरी हर मर्ज़ की आप ही तो दवा हैं !!

वो कभी समझते नहीं मेरे जज्बात को
और हम भी आजकल उन्हीं पर फ़िदा हैं !!

कब से जारी है मुझको तलाश अपनी ही
आज तक न जाने हम कहाँ लापता हैं !!

अपने आपको छल रहे हैं लोग आजकल
न जाने अब कहाँ देखते आइना हैं !!
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.48946

average: 10.0

on: Feb 14, 2020
ratings: 5

language: hi

..................कायराना दुस्साहस !........................

पुलवामा में देश के दुश्मनों ने दिया बर्बरता को अंजाम ।
चालीस सेनिकों का खून बहाकर किया नीचता भरा काम ॥

इनके सात पुश्तै याद करें ऐसी दो इन दहशतगर्दों को सजा ।
फिर कभी भारत की तरफ ना देखें चखा दो ऐसा मजा ॥

जो बहा है खून शहीदों का वो पवित्र खून जाने ना पाए जाया ।
जो पाल रहा है इन दहशतगर्दों को उस मुल्क का ही करदो सफाया॥

इस नामुराद ओछी हरकत से इस देश को डरा ना पाओगे ।
कट जाए जो देश की आन के लिए उस सर को झुका ना पाओगे

जिसने अपना बेटा, भाई, पति खोया है होगी नहीं उनकी भरपाई।
फिर भी देश की आन के लिए जान देने में पिछे नहीं हटेगा फौजी भाई ॥

पुलवामा में दहशतगर्दों ने की है जो नीच हरकत करते हैं उसकी निंदा ।
पर खाते हैं आज कसम उन गुनाहगारों में एक भी ना बच पाए जिंदा ॥

अमर शहीदों की कुर्बानी में जहाँ पूरे देश की आँखे हुई है नम ।
वहीं शहीदों के अपनों की छाती हुई चौड़ी, भले हो अपनों को खोने का गम ॥
............................................................................द्वारा............राजेश सिंह ॥

 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.48946

average: 10.0

on: Feb 10, 2020
ratings: 5

language: hi

----हारना मत तुम हिम्मत-------

छ:दिन तक सिने पर उठाया तुमने बफॆ का पहाड़।
धरती मां के लाल तुमने मौत को भी दिया पछाड़।
तुम्हारी सलामती की दूवा के लिए उठे हैं करोड़ो हाथ।
याहां तक आकर छोड़ना मत तुम हमलोगो का साथ।

कुदरत और विधाता को शायद यही मंजुर था होना।
नौ साथी खो चूके हम अब तुमको नही चाहते खोना।
किसी भी सुरत मे हमे निराश ना करना ओ हनुमन्ता।
तुम्हारे होश मे आने की राह देख रहे सभी और दो-दो माता।

अमी तो बाकी हे उतारना तुमको मां के दुध का कजॆ।
अभी तुमको और नीभाना हे धरती मां के रक्षा का फजॆ।
तुमको बचाकर रहेगें चाहे देश को चुकानी पड़े कोई भी किमत।
बस शतॆ यही हे कि किसी भी सुरत हारना मत तुम हिम्मत।

डाक्टरो की कोशिश और देशवासियो की दूवा लाए रगं।
प्रार्थना में जुड़े है हजारों हाथ जीत के आवो तुम जंग ।।।

...............................................................द्वारा- राजेश सिहं । ...old post

( VERY SORRY TO KNOW THAT LANCE NAIK HANUMANTAPPA IS NO MORE TO HEAR OUR PRAYER. MAY HIS SOUL REST IN PEACE )

 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.59768

average: 10.0

on: Feb 10, 2020
ratings: 8

language: hi

...........चेतन का स्वर्ग ......................
तेरी धरती से बढ़कर
स्वर्ग क्या होगा माँ..?
कल कल करती यह झरने
गाना गाते पंखी ,पेड़ पौधे .......
पहरा देती हिमालय ,
चरण धोती हुई सागर ,
और कहाँ होंगे माँ ...?
यहीं है मेरा स्वर्ग ....!
डराए ,धमकाए, मार गिराए ,
मगर रोक न पाए ' चेतन ' को ,
आप की सेवा पूरा कर दिए हम
आराम करने से पहले ..........!
स्वर्ग क्या करना आप के बिना ..?
लौट आये हैं ठुकराके हम ,
चालीस दिन की मेहमान नवाजी ,
उन की, हमें रास न आयी ..........
हम ने कहा ,जब हुआ ,
भगवान से सामना ,
' हमें यहां नहीं रहना ,
माँ की सेवा है करना....'........
माँ ,हमें कभी दूर न करना ,
अपनी आँचल की छाव से ,
मेरा स्वर्ग तो यहीं है ,
आप की चरणों तले .. ...........शरू ७.४.१७ ...५.२५ ऍम

CHETAN CHEETAH

CRPF Bravehearts Chetan Cheetah Awarded Kirti Chakra
Apart from them, 38 others security personnel were awarded gallantry medals for operations in Kashmir while 142 others received the award for anti-naxal operations.
Cheetah was wounded during a joint operation in the Hajin area of Bandipora district in North Kashmir on February 14 . 2017. He survived after nine bullet injuries and staying comatose for over a month.
HE JOINED HIS DUTY AFTER A YEAR..
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.43918

average: 10.0

on: Jan 22, 2020
ratings: 4

language: hi

बाळासाहेब ठाकरे ......बेताज़ बादशाह ( born..२३.१.१९२६.. died-१७.११.२०१२)

............" बेताज़ बादशाह..''........

कोई कहे
" शिव सेना प्रमुख नहीं रहे "
कोई कहे
"हिन्दू ह्रदय सम्राट नहीं रहे "
सब कहते हैं
" एक मराठी मनुष्य न रहा "
हमें तो लगता है
" एक रिश्तेदार चला गया "
एक बेमिसाल ,
निडर ,
" महा नायक चला गया "
महाराष्ट्र का एक
" बेताज़ बादशाह चला गया "
,...................................................BY शरू ...........

आज इनका जन्मदिन का बधाई हो
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.53147

by: Saloni
average: 10.0

on: Jan 14, 2020
ratings: 6

language: hi

उमंग की पतंग उड़ाते
बच्चों को बहुत लुभाते
हमे बचपन के दिन याद आते
खेलते दोस्तो के संग
उड़ाते रंग बिरंगे पतंग
चलो फिर से बच्चे बन जाए
आओ मिलकर उड़ाते पतंग
अपनो के संग
खुशियां मनाते
काश पतंग के डोर पकड़ कर आसमान में उड़ जाते
दिल की उमंग है पतंग
बिन प्रेम बेजान है पतंग
दिल में उमंग है
जीत जाएंगे एक दिन हम
ये जीवन की जंग
गर बढ़ाते जाएं ऐसे कदम
हमारा हौसला है हरदम बुलंद
मीठे गुड में मिल जाए तिल
पतंग उड़ी खिल जाए दिल
आप सब को मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.33902

average: 9.5

on: Dec 31, 2019
ratings: 7

tags: sharuu
language: hi

,,,,,,आखिर क्यों ,,?

आँखों से आंख मिले
क्यों मिले ,,?
सांसों से सांस मिले
क्यों मिले,,?
विचार से विचार टकराये
तो क्यों टकराये ,,?,,,,,,,,,,,.........शरू

XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX

रोज़ मरनेवालों को
रोये कौन ,,,,,?
एक व्यक्ति की
नहीं रहने से
कुछ न बदलती है
सूरज भी उगेगा
और चाँद भी ,,,,,,,,,,..................शरू

xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx

जुकना सीखो
अच्छी भी नहीं
इतना गुरुर ,,,,
आम भरी पेड़ जुकता है
जमींन की तरफ
जुकना सीखो ,,,,,........................,शरू

xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
आया है तो
जाना भी है
राजा महाराजा
राम कृष्णा साधु संत
कोई भी नहीं रुक पाए ,,,,,,,,,............शरू

xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx

फूलों से फूलों को
उड़ना ही काम है भ्रमर का
एक का मकरंद हुआ ख़तम
तो दूसरा फूल को ढूंढ़ता है
बस इक परवाना ही तो है
शमा केलिए जान भी देता है ,,,,,,,,,.....शरू

xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx

है छह बज ते ही सूर्य अस्त होता है
सागर के आगोश में चले जाता है
दिन भर का थकानवह मिटाता है
कहता है दिन भर वह बिजी रहता है
उसकी किरणे पहुंचा नहीं हमतक
इसमें उसकी क्या खता है ,,,,?,,,,,,,,,,,शरू
XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 0

by: Saloni
average: 0

on: Dec 25, 2019
ratings: 0

language: hi

काश तुम्हे पढ़ कर समझ सकती
तुम उस किताब की तरह हो
तुम से मिलकर सारा हिसाब ले सकती
मालूम तो चले तुम कौन सी हो हस्ती
फिर भी पूरी किताब बड़े शिद्दत से पढ़ती
और खो जाती
तुम्हारे हर अल्फ़ाज़ है गहरे
कौन से रहस्य से भरे
मेरे समझ से परे
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.53147

average: 10.0

on: Dec 22, 2019
ratings: 6

tags: Sharuu
language: hi

·

..........हमारी घर ......
छोटा सा एक
घर होगा हमारी
नदी किनारे ...........
खेत से जब तुम
घर आवोगे
तब तक मै
बैठ के बाते करुँगी
मछलियों से ..............
और ठंडक पहुंचाती हुई
हवावों से ........
सुबह होते ही
तुम निकलोगे ,
काम करने ..
मै तो
लगजावूँगी सुबह की
नाश्ता करने .........
बच्चों को
स्कूल भी तो है भेजने ..............by शरू...
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.48946

average: 10.0

on: Dec 21, 2019
ratings: 5

language: hi

लिपटा लो बांहो में मुझे कुछ इस तरह कि,
अगर मौत आए तो मुसकुराहट को पता न चलें और
रुह को बाहों की कैद से निकलने का मन ना करे |
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.17898

average: 9.0

on: Dec 3, 2019
ratings: 1

language: hi

दिल को दिल से मिल जाने दें
दिल मे' दर्द न रह पायेगा,
प्यार-वफा जब साथ रहेंगे
जीवन सुखमय हो जायेगा।
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.36026

average: 9.5

on: Dec 1, 2019
ratings: 9

language: hi

..................तस्वीर तुम्हारी .............
1
आँख के पानी को कही भर के रखना
मुश्किल के गड़ी में उसे वापरना
कौन जाने अब कब बारिश का आना
तुम याद करके मुझे कभी न रोना ... .....................BY शरू

xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx

न जाने कैसे आँखे अपने आप भर आती है ,
बारिश हो न हो ये तो है हमारी तक़दीर ,
हर आंसू को रखेंगे बहुत संभल कर
कियुकी उसमे है तुम्हारी सुन्दर तस्वीर .......................By.राज

xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxXXXXX
2
मगर हम बदल भी तो नहीं सकते तक़दीर
भोगना तो है जो दिखते हैं हाथ के लकीर
आंसू के साथ आप का देखा करेंगे तस्वीर
क्या करे जो पागल मन को समझा सके आखिर ......?.....by.. शरू

XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX

अक्सर तेरी यादो के झरोखे में मे झूल जाता हूँ ,
तेरी याद में मैं साडी दुनिया को भूल जाता हूँ ,
तेरी यादो में रोना मेरी taqdir है तो मुझे है मंजूर ,
यादो के साथ मेरे दिल में बसी हो चाहे मुझसे हो दूर . ......By..राज

XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX
3
ताकत बना लो हमारी यादों को तुम
कमज़ोर बन के कभी आंसू न बहवो
मर्दों की भाति पीजावो आन्सुवों को .
आन्सुवों से बहुत धान्य पैदा करो ................................BY शरू

xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx

तेरी यादें मेरी कमजोरी नहीं है यार ,
यह आंसू ही है मेरे असली हथियार ,
अस्त्र शास्त्र का भला मुझे क्या काम ,
हमने तो सीखा है करना सिर्फ प्यार . ...........................By, राज
xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.53147

average: 10.0

on: Nov 24, 2019
ratings: 6

language: hi

..........धन -दौलत भी ज़रूरी..............
1
पैदल चल पड़ा मैं तुझसे मिलने को .
होके दुनियादारी और अपनों से दूर .
एक तो मुम्बई है राजस्थान से बहुत दूर .
पर तुझसे मिलने को इस दिल किया मुझे मजबूर .......BY राज .7.45 PM

XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX

इतना भी क्या था मज़बूरी यार ..?
राजस्थान की लडकियां होती हैं बहुत सुन्दर ,
इसके लिए मुंबई तक आने की क्या थी जरुरत ..?
मुंबई की मराठी लड़की होती है बहुत थीका .. ( like chilli )...by शरू 7.54 पं

xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx

2.
न ही सुन्दर लड़की चाहिए न ही थीका की दरकार .
तुम्हारी सौंदर्य बसी है दिल में , हुआ है प्यार .
तपते रेगिस्तान से पैदल बिन हाथी और घोडा .
तेरे लिए मैं o जनम , चला आया भागा दौड़ा . ...By....राज ..8.16 PM

XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX

मगर हमें तो घोड़े में बैठ कर ,
आनेवाले ले के हाथ में तलवार
राजकुँवर की बचपन से ,थी इंतज़ार ,
हम बिलकुल नहीं पैदल चलनेवाले ,
मंगावो ऊंट , हाथी और घोड़े ............. ...............by शरू 8. 26 PM

XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX
3
दिल का राजा हूँ मैं , जहां करता हूँ मैं हुकूमत .
क्या तुम्हारे दिल में सच्चे प्यार की नहीं कोई कीमत ?.
कामिनी , हक़ीक़त तो यह है की दौलत से हूँ मैं गरीब .
दिल से करता हूँ प्यार और रहता हूँ दिल के क़रीब . By...... राज 8.38 PM

XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX

अच्छा ,आप हो सिर्फ नाम के राजकुमार ,
और कुछ नहीं आप के पास , आप हो फ़क़ीर ,
क्या पेट भरेगा इज्जत से आप का यह नायाब प्यार ..?
धन -दौलत भी जीने के लिए होती है बहुत ज़रूरी ,.......BY शरू 8.45 pm
xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx

 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.30162

by: Saloni
average: 10.0

on: Nov 11, 2019
ratings: 1

language: hi

ज्ञान के सागर हो तुम
सब के पालन हार हो तुम
कुछ नहीं तुम्हारे बिना
लेते है तुम्हारा नाम प्रतिदिन
ज्ञान के आधार हो तुम
हो तुम मेरे कर्ताधार
कर देते हो सबका सुधार
हाथ जोड़े खड़े है तुम्हारे
सब कुछ हो तुम हमारे
सबको गुरुपर्व की हार्दिक शुभकामनाएं
सलोनी
 
Rate & comment on this.
 
 
 [1]  2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20  >>