Writings

Top Rated : Other
Submit your own.  My Writings
Browse
Most Viewed
Top Rated
Most Recent

Category
All
Joke
Poem
Recipe
Other

Write your own
score: 9.7027

by: hu cho
average: 10.0

on: Aug 1, 2009
ratings: 13

language: hi

hai sab kuchh paas mere par mujhe kiski zaroorat hai

ye dil rah rah na jaane kyun, sisakta saaz deta hai

kisi kone ka soonapan tadap uthta hai rah rah kar

ki tum tanha ho tum khali ho, ye aawaz deta hai
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

by: hu cho
average: 10.0

on: Jul 10, 2009
ratings: 13

tags: zindagi
language: hi

ज़िन्दगी है छोटी, हर पल में खुश रहो ...
ऑफिस में खुश रहो, घर में खुश रहो ...

आज पनीर नहीं है , दाल में ही खुश रहो ...
आज जिम जाने का समय नहीं , दो कदम चल के ही खुश रहो ...

आज दोस्तों का साथ नहीं, टीवी देख के ही खुश रहो ...
घर जा नहीं सकते तो फ़ोन कर के ही खुश रहो ...

आज कोई नाराज़ है, उसके इस अंदाज़ में भी खुश रहो ...
जिसे देख नहीं सकते उसकी आवाज़ में ही खुश रहो ...

जिसे पा नहीं सकते उसकी याद में ही खुश रहो
Laptop न मिला तो क्या , Desktop में ही खुश रहो ...

बिता हुआ कल जा चूका है , उसकी मीठी यादों में ही खुश रहो ...
आने वाले पल का पता नहीं ... सपनो में ही खुश रहो ...

हँसते हँसते ये पल बिताएँगे, आज में ही खुश रहो
ज़िन्दगी है छोटी, हर पल में खुश रहो
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Sep 3, 2009
ratings: 13

language: hi

1 keya piyar ek bar hota hai?
क्या प्यार एक बार होता है?
(What time is love?)
Ans:

2 Kya dua se kismat badal jate hai?
क्या दुआ से किस्मत बदल जाते है?
(What is the grace of luck change?)
Ans:

3 Kis pe ziyada trust karte ho Love ya Friend?
किस पे ज्यादा विश्वास करते हो प्यार या दोस्त?
(How much confidence do you love or) on friend?)
Ans :

4 Apni life ki koi aise wish jis k pura hone ka intezar ho?
अपनी लाइफ की कोई ऐसे विश जिस के पूरा होने का इन्तेज़ार हो?
(Your life to make such the wish of the wait are you?)
Ans:

5 Kis k bina jee nahi sakte?
किस क बिना जी नहीं सकते?
(What a can not live without?)
Ans:

6 mirror mein apne aapko dekh kar kya feel hota hai?
दर्पण में अपने आपको देख कर क्या ख्याल आता है
(Myself in the mirror to see what comes after)
Ans:

7 Ek din ki zindagi mile to kya mangoge?
एक दिन की ज़िन्दगी मिले तो क्या मांगोगे ?
(So, one day ask of life get?)
Ans:

8 maut samne ho to kya cha ho ge?
मौत सामने हो तो क्या चाहोगे
(So what do you want to die)
Ans:

9 zakham dene wala dost ban jaye to kya karoge?
ज़ख्म देने वाला दोस्त बन जाये तो क्या करोगे
(Wound to be friends then do)
Ans:

10 agar dil me koi shaq ho to kya karoge?
अगर दिल में कोई शक हो तो क्या करोगे?
(If any doubt, in the heart do?)
Ans:

11 dost or pyar me pehli pasand konsi?.
दोस्त और प्यार में पहली पसंद कोंनसी
(friends and love in the first choice but what)
Ans:

12 kal agar me samne aajau to kya karoge?
कल अगर में सामने आया तो क्या करोगे
(so what if tomorrow will come before )
Ans:
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Aug 21, 2012
ratings: 13

tags: Tanvi
language: hi

Benoor aankhon main koi khuab to de,
Meri beqarar raaton ka kuch hisab to de,

Tu khafa hai mujhse lekinphir b agar ho saky,
Mere in sawalon ka jawab to de,

Humne jis main likhe thy kuch wady,
Agar mumkin hai to meri woh kitab to de,

De nahi sakta agar pyar to aisa kar,
Gham de, Zehar de, ya sharab to de,

Jis main beh jae mere dil ki dunya,
Aisa koi in aankhon main Selaab to de,

Kabhi tum kaha karet they k aap achy hain,
Ab bura he sahi magar koi khitaab to de.
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Mar 7, 2010
ratings: 13

language: hi

We r Cute Dauthers,
v r Sweet Sisters,
v r Lively Lovers,
v r Darling Wives,
v r Adorable Mothers,
v r Source of Strength,
We r WOMEN....
HAPPY WOMEN DAY
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Apr 25, 2013
ratings: 13

tags: P()()j@
language: hi

क्षितिज के उस पार

आओ
चलो हम भी
क्षितिज के उस पार चले

जहाँ
सारे बन्धन तोड
धरती और गगन मिले

जहाँ
पर हो
खुशी से भरे बादल

और
न हो कोई
दुनियादारी की हलचल

बेफिक्र
जिन्दगी जहाँ
खेले बचपन सी सुहानी

जहाँ
पर नही हो
खोखली बाते जुबानी

खुले
आकाश मे
पतन्ग की भान्ति

उडे
और लाएँ
एक नई क्रान्ति

जो मेहनत
को बनाएँ
सफलता की सीढी

तभी
आसमान छुएगी
हमारी नई पीढी

दूर
खडा वृक्ष
दिलाता है मानो अह्सास

अकेला है
तो क्या है
कभी मत होना उदास

मै
भी तो
अकेला खडा हूँ यहाँ

थक
जाओगे जब
तो मै तुम्हे दूँगा छाया

उठो
हम भी चले
यह धरती आस्माँ एक जहाँ

और
पाएँ अपा.....र शान्ति
नही कोई भिन्नता वहाँ

चलो
हम भी चले
क्षितिज के उस पार वहाँ


Sima Sach
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Feb 6, 2012
ratings: 13

language: hi

सुनसान गली में आया था गुमनामसा कोई सौदाई
इक ख्वाब खरीदा था हमने और मुक्त मिली थी तनहाई

सारी मेहेफिल में हम ही थे जो बात समझकर मचल गये
कहने को उन्होंने जुल्फ जरा उलझाई फिर से सुलझाई

वो महकासा आकाश अभी भी चांद से लिपटे सोया था
कल रात उडेली खूशबू को जब ले के उडी थी पुरवाई

उस जलती, तपथी धूप बिना महसूस अकेला होता है
कब धुंद हटेगी राहों से.. कब हाथ लगेगी परछाई

इन आती जाती साँसो से लाशों पर तोहमत लगती है
अब आस हैं सिर्फ कयामत की अब खत्म भी हो ये रुसवाई
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Jan 13, 2010
ratings: 13

tags: satyendra
language: hi

Why the heart is sooooooooooooooooo cheep


costing only 10 piso on this sie
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

by: hu cho
average: 10.0

on: Aug 2, 2009
ratings: 13

language: hi

pathhar to bahuton ne fenke magar

jo mathe par aakar laga kalank i tarah


wo ek dost ne mara tha
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Sep 1, 2009
ratings: 13

language: hi

Tum ne ye mashwara suna hai kya???
zindagi ishq ke siwa hai kya?
kaat li sab sazayen,ab to bata,,
e- sitamgar mera gunaah hai kya?????
aaah mehfil me naa nikalne di,,
chhup ke rona bhi koi gunaah hai kya?
umar bhar naa mila hai mujhko sukoon,,
maut hi akhri panaah hai kya?
Ae mere zurm ginane wale,,tere ghar koi aaina hai kya?
chand itna udaas aur dhundla kyun hai,,
mujhse zyada tanha hai kya?????
ajnabi se woh aaj baithe hain,,
qatl karne ka yahi din chuna hai kya????????

Tum ne ye mashwara suna hai kya???...............
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Apr 8, 2011
ratings: 13

tags: TKB
language: hi

जब श्रीलंका पर पूल बनाया जा रहा था तब हनुमान हर एक पत्थर पर राम लिख कर समुंदर में फ़ेंक रहे थे.... और हर पत्थर सुमंदर में तेर रहा था.

एक तरफ बैठे श्रीराम ये सब देख रहे थे. राम को ये समझ नहीं आ रहा था कि इन पत्थर को हनुमान किस तरह पानी में डाल रहा है जो डूब नहीं रहे हैं...

अब राम के दिल में ये बात आ रही थी कि ये सब केसे हो रहा है. पर उनकी हिम्मत नहीं हुई कि हनुमान से पुछा जा सके...

उस रात को राम को सो नहीं पाए और वे चुपके से रात अँधेरे में समुंदर पर गये और एक पत्थर उठाया और पानी में ड़ाल दिया और देखा कि पत्थर डूब गया...दूसरा पत्थर उठाया और पानी में ड़ाल और वो भी पत्थर डूब गया... उनको बहूत ताजुब हुआ कि मै ऐसा किस लिए नहीं कर पा रहा... दूसरी तरफ ये सब चुपके से हनुमान देख रहे थे... पर उन्होंने उस समय राम के पास जाना ठीक नहीं समझा.

अगले दिन हनुमान फिर पूल का काम कर रहे थे तभी राम ने चुपके से आ कर पूछा कि तुम ये सब केसे कर रहे हो हनुमान....

मै इन पर आपका नाम लिख रहा हूँ प्रभु... और ये पत्थर तभी पानी पर तर रहे हैं... हनुमान ने कहा....
राम ने कहा- मै जब इन पत्थर को समुंदर में डालता हूँ तो ये डूब जाता है...

हनुमान ने कहा- हे प्रभु मेरे द्वारा डाला हर पत्थर श्रीराम का सहारा लेकर समुंदर में तर रहा है... प्रभू जब आप अपने हाथ से डालते है तो वो नहीं तर सकता... क्योंकि आपने उसका साथ छोड़ दिया है तो भला वो केसे तर सकता है... जिसको आपका सहारा नहीं होगा तो वो तो डूबेगा ही....

---अगर अच्छा दोस्त साथ छोड़ दे तो दूसरा दोस्त तो डूब ही जायेगा न..और दोस्ती भी भगवान् का दिया हुआ राम-हनुमान का रिश्ता है.....

 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Sep 26, 2013
ratings: 13

language: hi

........here it is in hindi font

1:-जुगल बंदी वित राज...25.9.13...
......जीने की तमन्ना......
काले काले बादल छा गये चारो ओर ...
नाचने लगे हमारी मन मे मोर.....
आसमान मे जब खड़के भिजली और ....
पानी जो छुये बदन को ,बड़के प्यार की शोले............बाइ शरू
......................................................................................................
क्या इतना भी मालूम नहीं तुमको,
खुद काली घटा है जुल्फे तुम्हारी,
क्यू फैलाया अपनी काली जुल्फो को खोलकर,
देखो बरस उठे ना बदल झूमकर,..................... ......बाइ राज
....................................................................................................
2.
हमे ना पता था कि हमारे झुलफे खुलने से ...
हो जायेंगे बेकाबू और आसमान रो पड़ेंगे....
देखो अनजाने मे हुआ यह प्रकृती मे चलन...
अब भुगतना पड़ेगा सब ko iiska परिणाम.... ..............बाइ शरू
XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX
बांध लो अपनी काली काली जुल्फों को,
थम जायेगा बारिश का कहेर ,
दुबारा क़भी ऐसी गलती दोहराना मत यार,
बारिश की बूंदो को भी है तुम्हारे बदन से प्यार...... .........बाइ राज
xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
3.
बारिश को क्‍या, बहाना चाहिये बरसने को......
कुछ तो बहाने से च्छू ने क़ा मेरी बदन को .....
इतना घन घोर बारिश बरसने क़ा ज़रूरत क्‍या था...?......
भूमंडल मे हुआ जान माल का नुकसान, भरेगा कोन..?........लेखिका शरू
........................................................................................................
प्रकृती पर किसी क़ा जोर चलता है यार,
बरसने दो इन बादलो को दिन दो चार,
फेल जाने दो चारो ओर पानी ही पानी,
तभी तो होगी हमारी धरती धानी,..................लेखकराज.
४।..............................................................................................
अगर बरसे हिसाब से धरती होगी धानी ....
बेहिसाब तो होगी धरती पानी पानी ....
मचेगी चारो ओर हाहाकार और तबाही ..
फिर तो धरती रोयेगी, सह ना पायेगी पानी की मनमानी ........बाइ..शरू
.........................................................................................
चाहे बादल कितना भ़ी बरस जाये पानी,
बुझती नहीं कभी धरती की अंदर की प्यास,
चाहे कितना भी आजाये आसमान से तबाही,
वापस हो जाता है धरती मे जीवन का विकास. ..................बाइ..राज
.........................................................................................................
5.
लाठी को एक पल ,कुम्हार को लागे बरस ,
विकास होने को लगता है हज़ारों बरस....
तबाही तो हो जाता है चंद क्षण मे ..:.
वैसे भी जो नुकसान हुआ ,वो तो हो गया ............ .....बाइ शरू
......................................................................................................
उसी फसल को काट ता है, जिसे बॉता है किसान,
हमेशा नहीं रेहते धरती पर तबाही के निशान,
नहीं कर सकते हम प्रकृति का सही आंकलन,
प्रकृति तो कर लेती है बराबर अपनी संतुलन. ...................बाइ. .राज
.............................................................................................

6.
प्रकृति अगर थान लेती है संतुलन क़ी
बाढ़ बनके निगल लेती है सब कुछ .
आग बन के जला देती है रास्ते मे आये कोई.
फिर भी जीव का इतना प्रबल इच्छा होती है की ,
कही ना कही जीव का अंकुरित हो ही जाता है....
फिर से हरा भरा क़र देती है धरती को.......................बाइ..शरू
....................................................................................................
धरती पर कही बारस्ता नही एक बूंद पानी,
जहां बरसता है सूरज आग,
उस रेगिस्तान मे है रेत की भरमार,
वहा भी तो जीवन पनपता है यार,
जाने कैसा है ये पांच तत्वा का मेल,..........
बड़ा अजीब है ये प्रकृती का अनोखा खेल. ..........बाइ.,. राज.
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Dec 17, 2013
ratings: 13

language: hi

कुछ रिश्ते अलग होते हैं
कुछ रिश्ते ख़ास होते हैं
साथ ना होते हुए भी
वो साथ होते है

बहते आंसू बन चले जाए
आँख की चुभन तो न थे
कुछ लोग तो जाने के बाद
और करीब होते हैं

कुछ पल में बिखर गया
एक आशियाँ जो अपना था
समेट के देखे सारे तिनके
निशान आप के होते हैं

बिन आप के जीना तो
माँगा नहीं था खुद से
बस कुछ ऐसे ही नसीब है
ऐसे ही हालात होते हैं

लाख कोशिश की मैंने
के अब पीछे ना देखू
आगे भी तो मगर
साये आप के होते हैं

आप गए तो गए कहाँ
ऐसे तो न था जाना
आप के बाद आप के बिना
हर तरफ आप ही होते हैं

http://1.bp.blogspot.com/-US2y7WSHSGo/Ui4DKrcBntI/AAAAAAAAAFs/f5YwDnLTYpo/s1600/cry.jpg
**********************
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Sep 2, 2013
ratings: 13

tags: Lalit
language: hi


अगर आप अठारह साल से कम उम्र के हैं तो आगे आइये और जाइए ....बम लगाइए, हत्या कीजिये, रेप कीजिये, लूटपाट कीजिये और यदि पकडे गए तो कोई गम नहीं ..बस अधिकतम तीन साल सुधार गृह में चैन से रहिये ...वाह क्या कानून है?
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: May 26, 2013
ratings: 13

language: hi

.
Rakhta nahi koi maayina
Yeh to ham bhi maante hai sharir ki sundarata
Magar badan me takat to chaahiye
Sirf pyar se pet bhi to bharta nahi
Sansaar ke liye kaam karna padta hai
Kewal sundar rahe to dil bas nahi hota
Dil me khooon kaise doudega.....? ............by sharu
XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX- XXXXXXXXXXXXX
Pyar me hoti hai woh taqat,
Jo budhe ko bhi jawan banade,
Pyar me woh junoon hota hai,
Jo har mushkil ko aasan banade,
Pyar karke dekho to sahi ek baar,
Pet bhi bhar jayega mere yaar............BY RAJESH SINGH

XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX- XXXXXXXXXXXXXXXXX
8.
Pyar me hoti hai badi takat ham bhi maante
Magar jab daant hai to chana nahi
Chana hai to daant nahi aisa na hona chaahiye
Budhaape me kya pyar karenge yaar ....?..................BY SHARU
:)xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx- xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
Jawaani to deewani hoti hai,
Budhape ka pyar badi suhani hoti hai,
Pyar aur dant ka kiya talluk hai dildaar?
Jawani me ho ya budhape me pyar to hai bas pyar,.............BY RAJ
XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX- XXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXXX
9.
Jawani hai to daant hai chana chabana aasan hoti hai
Budaape me daant nahi hai aur chana chaba nahi sakte
Yehi jawani aur budaape ka aur daant ka taalluk hai
Mere buddhu yaar ,jaldi se shaadi karlo tera premi se...........by SHARU..
xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx- xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx Budhapa sabko Budhapa to aana hai sab ko is haqikat se muh na modo,
Pyar ka chanaa aur dant se koi nata na jodo,
Jawaani ka pyar aksar töot jati hai,
Budhape ka pyar hamesha rang lati hai,
Tujhse shadi karne ko mai to kabse hun taiyar,
Bas ek baar tu han to kar ke dekh mere yaar.............by RAJESH SINGH
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Aug 18, 2011
ratings: 13

tags: Manu
language: hi

Ik Chiraag Ibadat K Naam,
Ik Diya Tumhare Pyar ka Jalaya Hai.....
Ek Phool Pooja Ki Thali Per,
Ek Tumhari Raah May Bichaya Hai.....
Is Kadar Shamil Ho Tum Zindagi May,
Ibadat May Bhi Tumhara Hi Naam Lub Per Aaya Hai.
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Sep 9, 2009
ratings: 13

language: hi

Maana teri nazar me tera pyaar hum nahi,,
kaise kahe ki tere talabgaar hum nahi,,
khudko jalakar khak kar daala,mita diya,,
lo ab tumhari raah me deewar hum nahi,,!!!!!!!!!!
jisko sanwara hamne tamannao ke khoon se,,
gulshan me us bahaar ke haqdaar hum nahi,,
dhokha diya hai khud ko mohabbat ke naam se,,
kaise kahe ki tere gunehgaar hum nahi!!!!!!!!!!!
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Sep 20, 2012
ratings: 13

tags: Tanvi
language: hi

Tujhse Ru-B-Ru Hokar Baate Karu,
Nigahe Milakar Wafa Ke Wade Karu,

Thaam Kar Tera Hath Baithu Tere Samane,
Teri Haseen Surat Ke Najare Karu,

Sharma Kar Najro Se Tera Kuch Chupke Kah Jana,
Teri Nigaho Ke Wo Ishare Samjhu,

Teri Har Ek Ada Par Kar Du Kayi Shayari,
Har Lafz Me Wafa Ke Dawe Karu,

Sambhale Nahi Sambhalti ‘Jaana’ Ye Dil Ki Tadap,
Tu Hi Bata Main Kab Tak Yu Aahein Bharu…
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Dec 24, 2009
ratings: 13

tags: rota hoga
language: hi

Kahi ghar k kisi kone me rota hoga

mai jo jagta hu wo kya chain se sota hoga


agar tees si uthti hai mere seene me

toh dil uska bhi toh tadapta hoga


koi kam toh na tha lagaav uska bhi

man uska bhi toh kasakta hoga


kyu leti wo rusvaaiyan meri

anjam-e-muhabbat jo usko pata hoga


na de baddua use ab rehem kar uspe

kuch toh uski muhabbat ka haq ada hoga


kya rahi majbooriyan uski khudparasti ki

raajdar uska khud khuda hoga
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.7027

average: 10.0

on: Sep 9, 2011
ratings: 13

language: hi



Bas itni si inaayat mujh pe aik baar kijiye
Kabhi aa ke mere zakhmon ka dedaar kijiye

Ho jaaye begaane aap shauq se sanam
Aapkee hain aapkee rahegey aitbaar kijiye

Parhne waale hi darr jaayen dekh kar ise
Kitaab-e-dil ko itnaa na daagdaar kijiye

Na majboor kijiye, ke main unko bhool jaaun
Mujhe meri wafaaon ka na gunehgaar kijiye

In jalte diyon ko dekh kar na muskuraaiye
Zara hawaaon ke chalne ka intezaar kijiye

Karna hai ishq aapse karte rahenge hum
Jo bhi karna hai aapko mere sarkaar, kijiye

Phir sapno ka ashiyaan bana liya hai maine
Phir aandhiyon ko aap khabardaar kijiye

Hame na dikhaiye ye daulaate ye shohrat
Hum pyaar ke bhookhe hain humey pyaar kijiye............
 
Rate & comment on this.
 
 
<<1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12  [13]  14 15 16 17 18 19 20  >>