Writings

Top Rated : Other
Submit your own.  My Writings
Browse
Most Viewed
Top Rated
Most Recent

Category
All
Joke
Poem
Recipe
Other

Write your own
score: 9.68632

average: 10.0

on: Sep 16, 2010
ratings: 12

tags: nk
language: hi

9OTE:
Pleaze do not soot the person at the applikason kounter. He will give you the lisense.
If you dot know how to fill, copy from your phriend (dost) applikason.
For phurthar instructions, see bottom applikason.

For philling the phorom Check Karet box
1. Last name:
(_) Yadav (_) Sinha (_) Pandey (_) Misra (_) Dont no

2. phust name:
(_) Ramprasad (_) Lakhan (_) Sivprasad (_) Jamnaprasad (_) Dont no

3. Ege:
(_) Less than phipty (_) Greater than phipty (_) Dont no

4. Seks: ____ M ____ _(F) _____ not sure _____not applicable

5. Chappal Size: ____ Lepht ____ Right

6.Occupason:
(_) Politison (_) Doodhwala (_) Pehelwaan (_) House wife (_)Un-employed

7. Number of children libing in the household: ___

8. Number that are own : _________

9. Mather name: _______________________

10. Phather Name: _________________(If not no, leabe blank)

11. Eajukason: 1 2 3 4 (Circle highest klass attended)

12. Dental rekard:
(_) Ellow (_) Berownish-ellow (_) Berown (_) Belack (_) _________ Give egjhakt color

13.Your thumb imparesson : ____________________________

(If you are copying from another applikason pharom, pleaje do not copy thumb impression also. Pleaje provide your own thumb impression.) PELEAJE DO NOT USE PHINGERS OF YOUR LEGS
Use thumb on your lepht hand only. If you dont have lepht hand, use your thumb on right hand. If you do not have right hand, use thumb on lepht hand.

NOTE : IF YOU DONT HAVE BOTH HANDS, YOU CANNOT DERIVE.

WE ARE VARY ISTRICT ABOUT THIS.
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Feb 26, 2010
ratings: 12

tags: nirbhay
language: hi




Koi bhi cream lagane se kuch nhi hota.


Agr sundar dikhna hai to khoob rootho…



Kyunki…















































Koi haseena jab ruth jati hai to or bhi haseen ho jati hai :P
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Apr 5, 2011
ratings: 12

language: hi

Pawan ke panno pe barsa ki syahi se ,,
Likh di hai maine apne pram ki pati ,,
Dil ki aakho se ukhdi sanso se ,,
Dekho to padhke mere pram ki pati ,,
Jab man udas ho koi na pass ho ,,
In komal panno ko baho me bhar lena ,,
Baris ki bundo me keso ko bikhra dena ,,
Aue choke se padh lena .....mere pram ki pati ,,,,,,,,?
Jab chand nikal aaye aur badal me muskaye ,,
Tum apne nain uthaye dhire se muska dena ,,
Hawa me aanchal ko halke se lahra dena ,,
Aur chupke se padhlena ,,,,,,,mere pram ki pati ,,,,?
Kabhi jab sam dhali ho tum thodee thaki-thaki ho ,,
Hawa ki naram nami ko adhro se chipka lena ,,
Koi pram bhara nagma hoole-hoole ga dena ,,
Aur chupke se padhlena ,,, mere pram ki pati ,,,,?
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Sep 20, 2011
ratings: 12

tags: P()()j@
language: hi

Ek jazba khak hua dil ki gehrayion me kahin

ta'ajjub hai maut par uski koi roya tak nahin,

sahil se to chale the sath me hamsafar banker

sagar ne duboya hum hi ko unhe to bhigoya tak nahin,

ankhon me zinda khuwab thay ya khuwab me zinda ankhen,

tutne k bad hi jana ki unhone to sanjoya tak nahin,

nadani me jinki khatir sab lutane nikle the hum

dekho humare na rehne per bhi unka kuch khoya tak nahin.
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Dec 4, 2010
ratings: 12

language: hi

फैशन के चक्कर में शरीर के अंगों पर टैटू गुदवाने वाले युवाओं को सतर्क होने की जरूरत है।
चिकित्सकों के एक बड़े समूह ने सर्वेक्षण में पाया है कि टैटू गुदवाने वालों में हैपेटाइटिस-बी की आशंका 60 फीसदी तक बढ़ जाती है। टैटू गोदने की सुई का प्रयोग कई लोगों के लिए किया जाता है, जिससे विषाणुओं का संक्रमण हो सकता है। विश्व हैपेटाइटिस-बी दिवस पर जीटीबी अस्पताल में आयोजित कार्यक्रम में चिकित्सकों ने उक्त तथ्य उजागर किए। चिकित्सकों के अनुसार, टैटू हैपेटाइटिस-बी का कारण बन सकते हैं। युवाओं को चाहिए कि टैटू गुदवाने से परहेज करें।

कैसे हो सकती है बीमारी :
यूसीएमएस व जीटीबी अस्पताल में मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर डॉ. सुभाष गिरी के अनुसार, हैपेटाइटिस होने के कई कारण हैं, लेकिन टैटू गुदवाने से हैपेटाइटिस के मामलों में वृद्धि हुई है। टैटू गोदने वाला व्यक्ति कई युवकों व युवतियों के लिए एक ही सुई का प्रयोग करता है। वह न तो सुई को साफ करता है और न ही उबलते पानी में डाल कर उसे स्वच्छ करता है। टैटू गोदते समय सुई त्वचा की कुछ परतों के भीतर चली जाती है। इस स्थिति में यदि खून की कुछ बूंदें भी सुई के संपर्क में आ गई और उसी सुई को किसी अन्य के शरीर पर टैटू बनाने के लिए प्रयोग किया गया, तो बीमारी फैल सकती है। इस प्रक्रिया में रक्त में फैले विषाणु स्वस्थ व्यक्ति के शरीर में पहंुच जाएंगे और वह भी बीमार हो जाएगा। इस लिहाज से टैटू गुदवाना हैपेटाइटिस को दावत देना है।
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Sep 12, 2012
ratings: 12

tags: Tanvi
language: hi

Aa bhii jaao kii zindagii kam hai
tum nahi ho to har Khushii kam hai

vaadaa kar ke ye kaun aayaa nahi
shahar mein aaj raushanii kam hai

jaane kyaa ho gayaa hai mausam ko
dhuup ziyaadaa hai chandani kam hai

ainaa dekh kar Khayaal aayaa
mere chahere pe unki najro se noor hai,,,,
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Sep 16, 2013
ratings: 12

language: hi

एक बार एक दरोगा जी का मुंह लगा नाई पूछ बैठा – “हुजूर पुलिस वाले रस्सी का साँप कैसे बना देते हैं ?
“दरोगा जी बात को टाल गए …. लेकिन नाई ने जब दो-तीन बार यही सवाल पूछा तो दरोगा जी ने मन ही मन तय किया कि इस भूतनी वाले को बताना ही पड़ेगा कि रस्सी का साँप कैसे बनाते हैं !लेकिन प्रत्यक्ष में नाई से बोले – “अगली बार आऊंगा तब बताऊंगा !
“इधर दरोगा जी के जाने के दो घंटे बाद ही 4 सिपाही नाई की दूकान पर छापा मारने आ धमके – “मुखबिर से पक्की खबर मिली है, तू हथियार सप्लाई करता है,,,तलाशी लेनी है दुकान की !” तलाशी शुरू हुयी … एक सिपाही ने नजर बचाकर हड़प्पा की खुदाई से निकला जंग लगा हुआ असलहा छुपा दिया ! दुकान का सामान उलटने-पलटने के बाद एक सिपाही चिल्लाया – “ये रहा रिवाल्वर” छापामारी अभियान की सफलता देख के नाई के होश उड़ गए -”अरे साहब मैं इसके बारे में कुछ नहीं जानता ….आपके बड़े साहब भी मुझे अच्छी तरह पहचानते हैं !”
एक सिपाही हड़काते हुए बोला – “दरोगा जी का नाम लेकर बचना चाहताहै ? साले सब कुछ बता दे कि तेरे गैंग में कौन- कौन है … तेरा सरदार कौन है … तूने कहाँ-कहाँ हथियार सप्लाई किये,,, कितनी जगह लूट-पाट की … तू अभी थाने चल !” थाने में दरोगा साहेब को देखते ही नाई पैरों में गिर पड़ा – “साहब बचालो … मैंने कुछ नहीं किया !” दरोगा ने नाई की तरफ देखा और फिर सिपाहियों से पूछा – “क्या हुआ ?” सिपाही ने वही जंग लगा असलहा दरोगा के सामने पेश कर दिया – “सर जी मुखबिर से पता चला था .. इसका गैंग है और हथियार सप्लाई करता है.. इसकी से ही दुकान ये रिवाल्वर मिली है !”दरोगा सिपाही से – “तुम जाओ मैं पूछ-ताछ करता हूँ !” सिपाही के जाते ही दरोगा हमदर्दी से बोले – “ये क्या किया तूने ? नाई घिघियाया – “सरकार मुझे बचा लो … !”दरोगा गंभीरता से बोला – “देख ये जो सिपाही हैं न … साले एक नंबर के कमीने हैं .. मैंने अगर तुझे छोड़ दिया तो ये साले मेरी शिकायत ऊपर अफसर से कर देंगे … इन कमीनो के मुंह में हड्डी डालनी ही पड़ेगी … मैं तुझे अपनी गारंटी पर दो घंटे का समय देता हूँ .. जाकर किसी तरह बीस हजार का इंतजाम कर .. पांच-पांच हजार चारों सिपाहियों को दे दूंगा तो साले मान जायेंगे !”नाई रोता हुआ बोला – “हुजूर मैं गरीब आदमी बीस हजार कहाँ से लाऊंगा ?”दरोगा डांटते हुए बोला – “तू मेरा अपना है इसलिए इतना सब कर रहा हूँ … तेरी जगह कोई और होता तो तू अब तक जेल पहुँच गया होता … जल्दी कर वरना बाद में मैं कोई मदद नहीं कर पाऊंगा !”नाई रोता-कलपता घर गया … अम्मा के कुछ चांदी के जेवर थे … चौक में एक ज्वैलर्स के यहाँ सारे जेवर बेचकर किसी तरह बीस हजार लेकर थाने में पहुंचा और सहमते हुए बीस हजार रुपये दरोगा जी को थमा दिए !दरोजा जी ने रुपयों को संभालते हुए पूछा – “कहाँ से लाया ये रुपया?”नाई ने ज्वैलर्स के यहाँ जेवर बेचने की बात बतायी तो दरोगा जी ने सिपाही से कहा – “जीप निकाल और नाई को हथकड़ी लगा के जीप में बैठा ले .. दबिश पे चलना है !” पुलिस की जीप चौक में उसी ज्वैलर्स के यहाँ रुकी ! दरोगा और दो सिपाही ज्वैलर्स की दुकान के अन्दर पहुंचे … दरोगा ने पहुँचते ही ज्वैलर्स को रुआब में ले लिया -”चोरी का माल खरीदने का धंधा कब से कर रहे हो ?ज्वैलर्स सिटपिटाया – “नहीं दरोगा जी …आपको किसी ने गलत जानकारी दी है .. !”दरोगा ने डपटते हुए कहा – “चुप ~~~बाहर देख जीप में हथकड़ी लगाए शातिर चोर बैठा है … कई साल से पुलिस को इसकी तलाश थी … इसने तेरे यहाँ जेवर बेचा है कि नहीं ? तू तो जेल जाएगा ही .. साथ ही दुकान का सारा माल भी जब्त होगा !” ज्वैलर्स ने जैसे ही बाहर पुलिस जीप में हथकड़ी पहले नाई को देखा तो उसके होश उड़ गए, तुरंत हाथ जोड़ लिए – “दरोगा जी जरा मेरी बात सुन लीजिये ! कोने में ले जाकर मामला एक लाख में सेटल हुआ ! दरोगा ने एक लाख की गड्डी जेब में डाली और नाई ने जो गहने बेचे थे वो हासिल किये फिर ज्वैलर्स को वार्निंग दी – “तुम शरीफ आदमी हो और तुम्हारे खिलाफ पहला मामला था इसलिए छोड़ रहा हूँ … आगे कोई शिकायत न मिले !” इतना कहकर दरोगा जी और सिपाही जीप पर बैठ के रवाना हो गए ! थाने में दरोगा जी मुस्कुराते हुए पूछ रहे थे – “साले तेरे को समझ में आया रस्सी का सांप कैसे बनाते हैं ?” नाई सिर नवाते हुए बोला – “हाँ माई-बाप समझ गया !”दरोगा हँसते हुए बोला – “भूतनी के ले संभाल अपनी अम्मा के गहने और एक हजार रुपया और जाते-जाते याद कर ले … हम रस्सी का सांप ही नहीं बल्कि नेवला .. अजगर … मगरमच्छ सब बनाते हैं … बस आसामी बढ़िया होना चाहिए”
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: May 19, 2014
ratings: 12

tags: मन'
language: hi

लोग शोर सुनकर जाग जाते है . ...........
और
मुझे आपकी खामोशी सोने नही देती ................................ "मन"
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: May 19, 2014
ratings: 12

language: hi

Ishq ki raah mein chalna jara sambhal kee
ishq mein dard-de-dil milta hai buhat
ishq mein sang-dil-sanam milte hai buhat
ishq mein afsane bhi buhat hain...
ishq mein aansoo bhi buhat hain..
Ishq ki raah mein dilbar milte hain buhat
ishq ki raah mein aytbaar karna jara sambhal kee
ishq mein ruswaa hote hain mohbaat ke manzar
ishq ki raah mein gustaak-dil se rahna sambhal kee
ishq ek janoon hai, ishq ek deewangi hain
ishq ki raah mein kurbaani se bachna jara sambhal kee
ishq ek aag ka dariya hai, ishq ek imtihaan hain
ishq ki raah mein daman-e-pakh rahna jara sambhal kee

 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Jun 18, 2010
ratings: 12

language: hi

पुरानी नाक


एक ग़रीब मनुष्य ने देवता से वर प्राप्त किया था। देवता संतुष्ट हो कर बोले तुम ये पासा लो। इस पाँसे को जिन किन्हीं तीन कामनाओं से तीन बार फेंकोगे वे तीनों पूरी हो जाएँगी।

वह आनंदोल्लासित हो घर जाकर अपनी स्त्री के साथ परामर्श करने लगा क्या वर माँगना चाहिए। स्त्री ने कहा धन दौलत माँगो किंतु पति ने कहा देखो हम दोनों की नाक चपटी है उसे देख कर लोग हमारी बड़ी हँसी करते हैं। अत: प्रथम बार पाँसा फेंक कर सुंदर नाक की प्रार्थना करनी चाहिए। किंतु स्त्री का मत वैसा नहीं था। अंत में दोनों में खूब तर्क प्रारंभ हुआ। आख़िर पति ने क्रोध में आकर यह कह कर पाँसा फेंक दिया - हमें सुंदर नाक मिले, सुंदर नाक मिले, सुंदर नाक मिले।

आश्चर्य! जैसे ही उसने पासा फेंका वैसे ही उसके शरीर में तीन नाकें उत्पन्न हो गईं। तब उसने देखा यह तो विपत्ति आ पड़ी। फिर उसने दूसरी बार पासा फेंक कर कहा नाक चली जाएँ। इस बार सभी नाकें चली गईं। साथ ही अपनी नाक भी चली गई।

अब शेष रहा एक वर, तब उन्होंने सोचा यदि इस बार पासा फेंक कर चपटी नाक के बदले में सुंदर नाक प्राप्त करें तो लोग अवश्य ही चपटी नाक के स्थान पर अच्छी नाक देख कर उसके बारे में पूछताछ करेंगे। फिर तो हमें सभी बातें बतानी पड़ेगी। तब वे हमें मूर्ख समझ कर हमारी और भी हँसी उडाएँगे। कहेंगे कि ये लोग ऐसे तीन वरों को प्राप्त कर के भी अपनी अवस्था की उन्नति नहीं कर सके। यह सोच कर उन्होंने पासा फेंक कर अपनी पुरानी चपटी नाक ही माँग ली।

ठीक ही है समझबूझ कर काम न करने वाले लोग अवसरों को अपने हाथ से यों ही गँवा देते हैं। उनका लाभ नहीं उठा पाते।



इस रचना पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Jun 18, 2010
ratings: 12

language: hi

लालच


रेलवे स्टेशन पर मालगाड़ी से शीरे के बड़े-बड़े ड्रम उतारे जा रहे थे। उन ड्रमों से थोड़ा-थोड़ा शीरा मालगाड़ी के पास नीचे ज़मीन पर गिर रहा था। जहाँ शीरा गिरा था मक्खियाँ आकर बैठ गई और शीरा चाटने लगीं। ऐसा करने से उनके छोटे-छोटे मुलायम पंख उस शीरे में ही चिपक गए, फिर भी मक्खियों ने उधर ध्यान न देकर शीरे का लालच न छोड़ा और काफ़ी देर तक शीरा चाटने में ही मगन रहीं।
कुछ समय बाद वहाँ एक कुत्ता भी आ गया। कुत्ते को देखकर वे मक्खियाँ डरीं और वहाँ से उड़ने की कोशिश करने लगीं, परंतु पंख शीरे में चिपक जाने के कारण वे उड़ नहीं सकीं और शीरे के साथ-साथ वे सब भी कुत्ते का भोजन बनती गई। उसी समय उड़ते-उड़ते और कई मक्खियाँ भी उस शीरे पर आकर बैठती गई। उन सबके पंख भी शीरे में चिपक गए और वे भी उस कुत्ते का भोजन बन गई। उन्होंने पहले से पड़ी मक्खियों की दुर्गति और विनाश देखकर भी उनसे कोई सीख नहीं ली, जबकि वही विनाश उनकी भी प्रतीक्षा कर रहा था।

यही दशा इस संसार की है। मनुष्य देखता है कि लोभ-मोह किस तरह आदमी को दुर्गति में, संकट में डालता है, फिर भी वह दुनिया के इन दुर्गुणों से बचने की कोशिश कम ही करता है। परिणामत: अनेक मनुष्यों की भी वही दुर्गति होती है, जो उन लोभी मक्खियों की हुई।
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Oct 17, 2011
ratings: 12

tags: P()()j@
language: hi

Mujhy jeenay ki umeed dobara day do,
Meri doobti kashti ko kinara dy do,

Main dard k sahil pay tanha khara hun,
Phir aa k apni baahon ka sahara day do,

Tera daaman to bhara hay sitaron say,
Mujhy sadqay may ik sitara day do,

Mery aangan my aj andhera ha bohat,
Meri dehleez ko phir apna nazara dy do,

Chund lamhy tujhy dekhnay ki hasrat hay bas,
My nay kab kaha waqt apna mujhy sara day do


 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Jun 3, 2011
ratings: 12

language: hi




Aankhon mein aansu hain,
fir bhi hotho per muskan kyu hain?

Kyu dohari zindagi jeete hain hum,
Aakhir har koi pareshan kyu hain ?

Gulshan hain safar zindagi ka,
To fir iski manzil shamshan kyu hain?

Jab judai hi hain pyar ka matlab,
To fir pyar karne wale hairan kyu hain?

Acha karm karna hain zindagi mein agar,
To burai ka rasta itna asan kyu hain ?

Kabhi na milega jo hume, usi se hi lag jata hain dil,
Aakhir dil itna nadaan kyu hain ?

Hum jo chahate hain, vo kabhi nahi milta,
Fir bhi man mein chahat ka arman kyu hain ?

Sab akele aaye the duniya mein aur ek din akele hi jana hain,
Fir humesha kisi ka intezaar kyu hain?
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

by: kanak
average: 10.0

on: Jan 19, 2011
ratings: 12

tags: love
language: hi

हमने भी ज़माने के कई रंग देखे है
कभी धूप, कभी छाव, कभी बारिशों के संग देखे है

जैसे जैसे मौसम बदला लोगों के बदलते रंग देखे है

ये उन दिनों की बात है जब हम मायूस हो जाया करते थे
और अपनी मायूसियत का गीत लोगों को सुनाया करते थे

और कभी कभार तो ज़ज्बात मैं आकर आँसू भी बहाया करते थे
और लोग अक्सर हमारे आसुओं को देखकर हमारी हँसी उड़ाया करते थे

"अचानक ज़िन्दगी ने एक नया मोड़ लिया
और हमने अपनी परेशानियों को बताना ही छोड़ दिया"

अब तो दूसरों की जिंदगी मैं भी उम्मीद का बीज बो देते है
और खुद को कभी अगर रोना भी पड़े तो हस्ते हस्ते रो देते है

 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Aug 26, 2009
ratings: 12

tags: 2
language: hi

Kisi ki chahat pe jinda rehne wale hum na the,
Kisi pe mar mitne wale hum na the
Aadat si pad gayi tumhe yaad karne ki,
Warna kisi ko yaad karne wale hum na the.
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Aug 4, 2011
ratings: 12

tags: muhabat ,
language: hi

Khuda se mili jo kuch uska silla de ,,
Chalo zindagi ko muhabat bana de ,,
Na samjhega nadan meri muhabat ,,
Jatana jaruri hai aab ,to jata de ,
Jaruri hai khud jhak le hum gireba ,,
Kahi kal dusman na isko dekhaye ,,
Tumhare rahe hai ,rahenge hamesa ,,
Ki jab tak tumko muhabat dekha de ,,
Hame to samjh aa gaya hai ishara ,,
Chalo mil ke duniya nai ek basa de ,,
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Aug 30, 2009
ratings: 12

language: hi

kitabon ke panne palat ke sochta hun,,
yun palat jaaye meri zindagi to kya baat hai,,
khwabon me roz milte hain jo,,
aaj haquikat me mil jaaye to kya baat hai...........
kuch matlab ke liye dhundte hain mujhe,,,
bin matlab koi dhunde to kya baat hai,,..
qatal karke to sab le jayenge dil mera,,
koi baaton se le jaaye to kya baat hai.................
jo sharifon ki sharafat me baat na ho,,
wo baat ek sharabi keh jaaye to kya baat hai...
apne zinda rehne tak to khushi dunga sabko,,
aye zakhmi,, jo kisiko meri maut khushi de jaaye to kya baat hai............
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Jul 19, 2009
ratings: 12

tags: Dil sE...
language: hi


Question 1: What Is The Best Punishment You Can Give To A Girl ?



Answer : Give Her A New Dress,
Jewellery,
Cosmetics Etc.
And Then Lock Her In A Room, Without A Mirror !!!!!!


Question 2 : And What Is The Best Punishment You Can Give To A Boy ?




Answer : Give Him A Mobile
With Lot Of Balance
And Girl's Phone Nos.
And
Leave Him At A Place,
Where There Is No Network............

__________________________ keep :)ing ________________________
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68632

average: 10.0

on: Nov 27, 2011
ratings: 12

tags: KAS
language: hi

महकती है तेरी आँखें
मदहोश करती है क्यो मुझे
सागर से तेरी आँखें
उंस जागती है मुझमे
तकती मुझे तेरी आँखें
इश्क़ का जाम पिलाए मुझे
तेरी आँखें यह तेरी आखें
दीवाना बनiती है मुझे

आँखो में जो बात है सनम की
आँखों में जो अहसास है उनकी
एक नज़र जो देख ले वो तो
धरकने तेज़ हो जाए मेरी
*
वो प्यार में डूबी आँखे
वो तरसती ताकती आँखें
आँखों से सब कह डालना
आँखों ही आँखों में घायल करना
*
अदा कहूँ आँखों की
उनकी फ़ितरत में है यह
आँखों से मेरे होश उड़ाना
फिर मुस्कुराहट भरी आँखो से ताकना
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.68354

average: 9.92857

on: Sep 15, 2010
ratings: 15

language: hi

Jisko humne samjhatha apna,
Rahegaya voh ek jhuta sapna,

Jisko dil ne pyar se apnaiya,
Nikla vohi sab se paraiya,

Jiski khaathar hum hue badnam,
Ek hai uspar humara ehsaan,

Ke chalo, humne tho dil ki chot khaaee,
Lekin usko mohobaat hum hi ne sikhaaee.
 
Rate & comment on this.
 
 
<<1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15  [16]  17 18 19 20  >>