Writings

Top Rated : Other
Submit your own.  My Writings
Browse
Most Viewed
Top Rated
Most Recent

Category
All
Joke
Poem
Recipe
Other

Write your own
score: 9.85075

average: 10.0

on: Mar 29, 2012
ratings: 34

tags: karthik
language: hi

ae chand kuch dair zameen pe aana…….. aaj ki shab unkey ghar ko hai jana…………. nazuk sa dil hai un ka………. derwaza barey pyar se khatkatana………. yaad rakhna woh tum se bhi zeyada khubsurat hein………. bus pyar se unko choom k aana……… pooche ager koi aaney ki wajha……….. to kisi choti si baa…t pe uljhana………..
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.85075

average: 10.0

on: Oct 22, 2011
ratings: 34

tags: P()()j@
language: hi

Agar manzil nahi milti
to phir shoq safar kyun hai
bohat hi door ki awaaz mei
itna asar kyun hai ,…

─●●─

 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.85075

average: 10.0

on: Sep 7, 2010
ratings: 34

tags: BHUPENDRA
language: hi

EK AJEEB HAQIQAT
100 RUPYE KA NOTE BAHUT ZYADA LAGTA HE JAB" KISI GARIB KO DENA HO" .
MAGAR HOTEL ME TIP DENI HO TO BAHUT KAM LAGTA HE.
3 MINUT BHAGWAN KO YAD KARNA BAHUT MUSKIL HE. MAGAR
3 HRS. KI FILM DEKHNA BAHUT ASAN HE.
PURE DIN MEHNAT KE BAD GYM JANA HO TO AADMI THAKTA NAHI MAGAR
JAB APNE HI MA-BAAP KE PER DABANE HO TO LOG THAK JATE HE.
IS MESSAGE KO PADHANA BAHUT MUSKIL HE AUR IS MESSAGE KO LOGO KO BHEJNA MUSKIL LAGTA HE. MAGAR FIZOOL JOKES BHEJNA HO TO LOGO KO KAFI WAQT MIL JATA HE.

JUST THINK
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.85075

by: hu cho
average: 10.0

on: Jun 23, 2009
ratings: 34

tags: samual.s
language: hi

kaun kahta hai mohabbat ke zuban hoti hai

ye wo shai hai ki jo aankhon se vayan hoti hai
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.84673

average: 10.0

on: Nov 17, 2017
ratings: 33

tags: nikshita
language: hi


❤ जब भगवान स्त्री की रचना कर रहे थे,तब उन्हें काफी समय लग गया । आज छठा दिन था और स्त्री की रचना अभी भी अधूरी थी।

❤ इसलिए देवदूत ने पूछा भगवन्, आप इसमें इतना समय क्यों ले रहे हो?

❤ भगवान ने जवाब दिया, "क्या तूने इसके सारे गुणधर्म (specifications) देखे हैं, जो इसकी रचना के लिए जरूरी हैं ?

💚 यह हर प्रकार की परिस्थितियों को संभाल सकती है।

💚 यह एक साथ अपने सभी बच्चों को संभाल सकती है एवं खुश रख सकती है ।

💚 यह अपने प्यार से घुटनों की खरोंच से लेकर टूटे हुये दिल के घाव भी भर सकती है ।

💚 यह सब सिर्फ अपने दो हाथों से कर सकती है।

💚 इस में सबसे बड़ा "गुणधर्म" यह है कि बीमार होने पर भी अपना ख्याल खुद रख सकती है एवं 18 घंटे काम भी कर सकती है।

❤ देवदूत चकित रह गया और आश्चर्य से पूछा-

❤ "भगवान ! क्या यह सब दो हाथों से कर पाना संभव है ?"*

❤ भगवान ने कहा यह स्टैंडर्ड रचना है।
(यह गुणधर्म सभी में है )

❤ देवदूत ने नजदीक जाकर स्त्री को हाथ लगाया और कहा, "भगवान यह तो बहुत नाज़ुक है"

❤ भगवान ने कहा हाँ यह बहुत ही नाज़ुक है, मगर मैने इसे बहुत ही Strong बनाया है ।

❤ इसमें हर परिस्थिति को संभालने की ताकत है।

❤ देवदूत ने पूछा क्या यह सोच भी सकती है ?

❤ भगवान ने कहा यह सोच भी सकती है और मजबूत हो कर मुकाबला भी कर सकती है।

❤ देवदूत ने नजदीक जाकर स्त्री के गालों को हाथ लगाया और बोला, "भगवान ये तो गीले हैं , लगता है इसमें से लीकेज हो रहा है।

❤ भगवान बोले, "यह लीकेज नहीं है, यह इसके आँसू हैं।"

❤ देवदूत: आँसू किस लिए ?

❤ भगवान बोले : यह भी इसकी ताकत हैं । आँसू , इसको फरियाद करने , प्यार जताने एवं अपना अकेलापन दूर करने का तरीका है।
❤ देवदूत: भगवान आपकी रचना अद्भुत है । आपने सब कुछ सोच कर बनाया है, आप महान हैं।

❤ भगवान बोले-
❤❤ यह स्त्री रूपी रचना अद्भुत है । यही हर पुरुष की ताकत है , जो उसे प्रोत्साहित करती है। वह सभी को खुश देखकर खुश रहतीँ है। हर परिस्थिति में हंसती रहती है । उसे जो चाहिए वह लड़ कर भी ले सकती है। उसके प्यार में कोइ शर्त नहीं है (Her love is unconditional) । उसका दिल टूट जाता है जब अपने ही उसे धोखा दे देते हैं । मगर हर परिस्थिति से समझौता करना भी ये जानती है।

❤ देवदूत: भगवान आपकी रचना संपूर्ण है।

❤ भगवान बोले ना, अभी इसमें एक त्रुटि है।

❤ यह अपनी "महत्त्ता" भूल जाती है"
❤❤ She often forgets what she worth" ❤❤

❤👏😊 सभी आदरणीय स्त्रियों को समर्पित। ❤👏😊
❤ To all respectful women ❤
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.84673

average: 10.0

on: Nov 28, 2009
ratings: 33

tags: f@!Z
language: hi

Gali se ek ladki guzra karti thi

Uske chehre par naqab hua karta tha

Phir bhi us par ek ladka marta tha

Shayad woh use dilo jaan se chahata tha

Woh use baar baar kehta



"Muh se naqaab hata do

Apna chaand sa mukhda dekha do

Par ladki ne muh se naqaab na hataya





Ladke ko apna chehra na dikhaya.

Kayi din beet gaye ladki ko woh ladka nazar na aaya

Ladki kuch pareshan si rehne lagi

Kisi tarah poochte poochte woh uske ghar pohochi.



Padosiyon ne kaha "aap ko aane main thodi der ho gaye


Us deewane ke to saat roz pehle hi maut aa gaye".

Padosi ne apna farz nibhaya

ladki ko ladke ki qabr tak pohochaya,

Ladki zor zor se rone lagi

Apne aansuon se qabr ko dhone lagi

Tabhi kabar se ek aawaz aayi....



AAY KHUDA YE KESA INQALAAB AAYA HAI

MAIN PARDAY MAIN HOON OR

MERA MEHBOOB BENIQAAB AAYA HAI"

 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.84673

average: 10.0

on: May 27, 2008
ratings: 33

language: hi

Arz kiya hain...(un logon ki taraf se jinse vote maanga ja raha hain aur aaj hi nahin..jab jab contest honge...tab tab maanga jaayega and tab tab unki yeh haalat hogi ...)
haan toh arz kiya hain..........
Yeh dialogue arz kiya hain...Jaise Damini movie mein tha na waise bolna...


Vote dene se pehle main kuch arz karna chaahungi....Pehle vote diye maine to kabiliyat pe diye...doosre vote logon ne itna bola toh de diya...uske baad logon ne emotional natak karke vote le liye....aaj logon tum firse vote maang rahe ho?? iske baad na koi sacche dil se vote dene waala bachega aur na hi koi fairplay waala...reh jayega toh sirf yeh vote request....
Aur yehi hota raha hain ....vote pe vote...vote pe vote...vote pe vote...vote pe vote...ki comments milti rahi hain....talent nahi mila...mili hain toh sirf vote ki yeh request.......


(original dialogue as : Tareek dene se pehle main kuch arz karna chahunga...pehli tareek mein blah blah blah...doosri tareek blah blah blah....natak karke....tareek le li....aaj meylord aap firse tareek de rahe hain...na koi sacchai ke liye ladne waala rehega na ....na hi insaaf maangne waala...reh jayegi sirf tareek...aur yehi hota raha hain Tareek pe taarekkk...Tareek pe taarekkk...Tareek pe taarekkk...Tareek pe taarekkk...milti rahi hain lekin...insaaf nahi mila..mili hain toh sirf yehi tareek...)

INQUILAB ZINDABAD!!!!!!!!!!!!!

Hehehehe



 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.84644

average: 9.91304

on: Oct 12, 2009
ratings: 76

language: hi

@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@
@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@



Friendship is not about “I m sorry “ its about “abbe teri galti hai “

Friendship is not about “I m there for u “ its about “kahan marr gaya saale “

Friendship is not about “I understand “ its about “sab teri wajah se hua manhus“

Friendship is not about “I care for u “ its about “kamino tumhe chhod ke kahan jaunga “

Friendship is not about “I m happy for ur success “its about “chal party de saale“

Friendship is not about “I love that girl“ its about “saalo izzat se dekho tumhari bhabhi hain “

Aab dekh kya rahe ho, comments or rating kar “Kanjoos”




@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@
@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.84249

average: 10.0

on: Sep 21, 2011
ratings: 32

tags: P()()j@
language: hi

Ae waqt zara to tham ja, Mujhe yaad “KISI” ko kerne dy,
Mujhe “peyar” hai ik “SUNG DIL” say, Jo koi “BAAT” mujhay na karne dy,
Na apny “PAS” wo aany dy, Na khud se “DOOR” wo jany dy,
Na “DIL” ko apny pas rakhy, Na aur kisi ka “HONY” dy,
Her waqt mujhe “WO” yaad aay, Phir “DIL” se ik aawaz aay,
Ye kaisi “CHAHAT” hai us ki, Jo “JEENY” de na “MARNY” dy .
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.84249

average: 10.0

on: Sep 22, 2010
ratings: 32

language: hi

कांधला (मुजफ्फरनगर) उत्तरप्रदेश : अयोध्या में मंदिर और मस्जिद के विवाद में उलझे लोगों के सामने यहां का कांधला कस्बा मिसाल पेश कर रहा है। यह भी ऐसी कि शायद ही कहीं और सुनने या देखने में आए। यहां के मोहल्ला शेखजादान में एक आंख में मंदिर समाई है तो दूसरी में मस्जिद। दोनों की दीवार एक है तो यहां के लोगों का धर्म भी इंसानियत है। करीब 150 वर्षो से मानो मंदिर-मस्जिद एक-दूसरे का हाथ थामे हैं। एक तरफ जामा मस्जिद में अजान होती है, तो दूसरी ओर लक्ष्मीनारायण मंदिर में घंटे बजते हैं। मंदिर की नींव एक मुस्लिम मौलाना की गवाही पर रखी गई थी। साठ साल की अदालती लड़ाई के बाद कल अयोध्या के मंदिर-मस्जिद विवाद का फैसला आना है। लड़ाई जगह की है। एक पक्ष कहता है कि वहां मंदिर था तो दूसरा मस्जिद बताता है। ऐसा ही मिलता-जुलता मसला डेढ़ सौ साल पहले कांधला में सामने आया था। उसका हल भी ऐसा निकला कि मिसाल बन गया। सन् 1391 में फिरोजशाह तुगलक शिकार खेलते-खेलते कांधला पहुंच गए थे। जुमे का दिन था और शिकार के कारण समय पर घर न पहुंच सके। कस्बे में मस्जिद की तलाश की गई, पर न मिली। बादशाह फिरोजशाह ने सिपाहियों को लगाकर कस्बे का सबसे ऊंचा स्थान ढुंढ़वाया और जुमे की नमाज अदा की। बाद में उसी स्थान पर जामा मस्जिद की स्थापना की गई। मौलवी नुरुल हसन बताते हैं कि करीब 450 वर्ष बाद वर्ष 1840 में मस्जिद की मरम्मत हुई तो बराबर में खाली पड़ी जगह को भी मस्जिद में मिलाने की बात उठी। इसका पता चलते ही हिंदुओं ने इसे मंदिर की जगह बताकर काम रोकदिया। मामला अंग्रेजी अदालत तक जा पहुंचा। मौलाना महमूद बख्श कांधलवी ने नई इबारत लिखते हुए कोर्ट में बयान दिया कि मस्जिद के बराबर की जगह मंदिर के लिए है, इसलिए वहां पर मंदिर ही बनाया जाए। कोर्ट के आदेश पर मंदिर का निर्माण हुआ। तब से करीब 160 वर्ष हो गए दोनों समुदायों के लोग सौहा‌र्द्रपूर्वक एक साथ पूजा व नमाज अदा कर रहे हैं। मंदिर के पुजारी अजान के मंदिर का स्पीकर बंद कर देते हैं, ताकि किसी की आस्था को कोई चोट न पहुंचे। सदियों से चला आ रहा यह भाईचारा आज भी बरकरार है। जज को नहीं देखा था मौलाना ने सन 1840 में मौलाना महमूद बख्श ने गवाही दी, लेकिन एक शर्त रखी कि देश को गुलाम बनाने वाले फिरंगी जज की सूरत नहीं देखेंगे। इस पर कांधला के कस्बा एलम में दो तंबू लगाए गए। इनमें एक में जज थे और दूसरे तंबू में खडे़ होकर मौलाना ने गवाही थी।
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.84249

average: 10.0

on: Jul 30, 2009
ratings: 32

tags: friends
language: hi

तकरार भी दोस्तो से है,
प्यार भी दोस्तो से है,

रुठना भी दोस्तो से है,
मनाना भी दोस्तो से है,

बात भी दोस्तो से है,
मिसाल भी दोस्तो से है,

नशा भी दोस्तो से है,
शाम भी दोस्तो से है,

जिन्दगी की शुरुआत भी दोस्तो से है,
जिन्दगी मे मुलाकात भी दोस्तो से है,

मौहब्बत भी दोस्तो से है,
इनायत भी दोस्तो से है,

काम भी दोस्तो से है,
नाम भी दोस्तो से है,

ख्याल भी दोस्तो से है,
अरमान भी दोस्तो से है,

ख्वाब भी दोस्तो से है,
माहौल भी दोस्तो से है,

यादे भी दोस्तो से है,
मुलाकाते भी दोस्तो से है,

सपने भी दोस्तो से है,
अपने भी दोस्तो से है,

या यूं कहो यारो,
अपनी तो दुनिया ही दोस्तो
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.84249

by: hu cho
average: 10.0

on: May 9, 2008
ratings: 32

language: hi

Pichle Episode mein aapne dekha tha kaise gabbar bach jaata hai...veeru basanti ke khone ke gum mein paagal don ban jaata hai....bhay jo india aata hai usse apne pichle janam ki baate yaad aati hai aur paro se milta hai waha...AB DEKHIYE AAGE........

bhay ki yadaash wapis aa gayi hai { ab is hindi bass yahi unscientific fact hai.... just digest it guys) ... he knows it all... he now knows gabbar is not his dad.... he put 2 plus 2 together and everything is clear to him.... he call up gabbar-----

bhay- gabbar singh, pehchana( he's lost the youthful tone... his voice has subdued anger).

gabbar- arre beta kaisa hai re tu, abba ki yaad nahi aati kya... aur itna gusse main kyon hain ? arre o samba, zara hamare bitwa ke aawaz to sunn... jawaani ka ubaal aa raha hai.... gabbar khush hua bitwa....

bhay- gabbar singh, main tumhara beta nahi, jai hoon.... abhi tak main anjaan tha.... lekin mughe sab kuch yaad aa gaya hai.... main ek nahi do hoon... bhay aur jai.... main aa raha hoon teri paap ki lanka dhaane.... is baar tu nahi bachega....

he hangs up.....

he tell paro the whole story... first she's dumb struck but tell him that if its all true and since he know dadaji and mammi, they must first go to ramgarh to meet them.... and they set off for india....

in the mean time unke plan ka pata gabbar ko bhi chal jaata hai....
he's shown in his posh corporate office with his well dressed suited goons..... listening to bhay and paro talking.... how??? through the chip he planted in bhay's tooth socket when he was a child..... gabbar laughs out.... loud... evil..... a ruthless laugh..... he say ke use isi din ka intazaar tha.... he said... arre o samba, kaha tha na maine ki yeh ladka ek din apna fann utha ke dassne ki koshis karrega.... kaha tha na....

samba(aadat se majboor);siting on d second floor-- haan boss( no sardar!!!!) agar aapko pata tha to aapne use bachpan mein hi kyon nahi maar diya?

gabbar---- abbe gadhe pehle neeche aa……haan agar main use bachpan mein maar deta toh story kaise badhega…aur usko kuch pata hi nahi chalta ke woh kyon mara.... ab woh tadpega.... aaj 20 saal baad thakur bhi tadpega.... aaj bees saal baad main sabko bata doonga ke gaabar se ulaghne ka anjaam kya hota hai—also 20 mera lucky number hai-- haha haha haah hhhhaaaaa haaaahhhaaa.....

samba-magar boss, veeru ka kya? pechle 5 saalon se mafia mein afwah hai ke ek gumnaam don jo USA mein aaj raaj karr raha hai, jo ek zehar ki tarah poore US mein faill chuka hai aapke baare mein chaan been karr raha hai...usne ek satellite bhi bheja hai wid d name gabbar tu mara!!! mujhe poora shaq hai ke yeh koi aur nahi, veeru hai..... uski maut ki khabar udi to thi magar humne uski laash nahi dekhi......

gabbar- mughe iss aadmi ki poori details chahiye... makie chan,truce lee aur sahara lee.... tum teen aaj hi US ke liye nikal jaoo aur mujhe 7 din mein poori report do.... samba tum humare decide kiye plan parr chalo.....
more 2 folow soon..

ISS EPISODE KE PRAYOJAK THE.....NO---KIA....i mean kisine sponsar nahi kiya
RATE DIS NEXT EPISODE LEKAR JALDI HI AAUNGA ISI CHANEL MEIN KISIBHI WAQT
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.83327

average: 10.0

on: Sep 30, 2013
ratings: 29

language: hi

1.
Naadan the ham to aap se milne se pehle
Social net working ka pehchaan se pehle...
Nasamajh bahut the ham ,
Yahaan dost banaane se pehle ............................BY sharu
..........................................................................................................

Tumhari isi naadani par ham huve fidaa,
Khud tumpar mar mite ye baat hai judaa,
Social networking ka to bahaana hai yaar,
Darasal sadiyon purana saath hai hamara tumhara ……..by Raj
xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
2.
Yeh to hai hamara pyar janam janam ka..
Magar yahaan aake hui jo mulaakaat..
Yaad aagayab saara kahaani pyaar ka ..
Bahut pehle Hue the ek dusre se judaa… .........by Sharu
.............................................................................................................................
Pichhle janam me bhi mile the,
Is janam me bhi hamara milna tay tha,
Agle janam me bhi jarur milenge ham,
Janam janam milte rahenge khuda ki kasam…......by Raj
xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
3.
Matlab milenge bichhadne keliye .....
Aur bichhadenge fir milne ke liye...
Har baar yeh hote rahegasaath hamare ...
Aur kitna baar ham janam lete rahenge..? ...........by .Sharu
............................................................................................................
Yahi to jeevan chakra hai yaar,
Murjha jate hai phool khil ke hazaar,
Phoolon ki tarha hai hamara jeevan,
Janam lete rahenge jab tak na ho hamara milan…........by. Raj
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.83327

average: 10.0

on: Jan 29, 2013
ratings: 29

tags: Anmol ho
language: hi

Kuch Dost aise hote hain,
Jo dil main bas jate hain.
Jo zindagi ki rahon main,
Hum se bichar jate hain.
Kuch dost aise hote hain,
Jo raat main yaad aate hain.
Aur raaton ki tanhayi me rulaate hain,
Kuch dost aise hote hain,
Jo phoolon ki tarah hote hain,
Jo khud to chale jate hain,
Per apni mahek chor jate hain.
Kuch dost aise hote hain,
Jo zindagi tor dete hain.
Per zindagi ki raahon me tanha chor detey hain.
Kuch dost aise hote hain,
Jo chaand ki tarah hote hain,
Jo daag to bahut rakhte hain per,
Khubsurat nazar aate hain.
Kuch dost aise hote hain,
Jo patthar ka dil rakhte hain,
Jo shisha-e-dil tor jate hai, Per
Tum…in sub mein anmol ho.....
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.83327

average: 10.0

on: Jan 17, 2010
ratings: 29

tags: HINDI
language: hi

DOSTO AAJ HUM EK AJEEB PRANI KE BAARE ME PADHENGE.
IS JEEV KA NAM HAI ''WIFE''
YE AKSAR GHAR ME PAYI JAATI HAI.
INKA POUSTIK AAHAR ''PATI'' KA ''BHEJA'' HO HAI.
INHE AKSAR ''NAARAZ'' HONE KA ''NAATAK'' KARTE HUWE
DEKHA JA SAKATA HAI.
IS PRANI KA SABSE KHATARNAK HATHIYAR ''RONA'' AUR
''EMOTIONALLY'' BLACKMAIL KARNA HOTA HAI.
USKE SAMPARK ME RAHNE SE ''TENTION'' NAM KI BIMARI HO SAKTI HAI.
JISKA KOI ILAAZ NAHI HAI.
................................NOTE:- INSE SAVDHAN RAHE PATI BACHAO SAMITI DWARA PATI HITH ME JARI............
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.83327

average: 10.0

on: Jan 7, 2010
ratings: 29

tags: satyendra
language: hi

wo mera dost, mera hamsaya hai

magar afsos , ab paraya hai
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.83327

average: 10.0

on: Dec 21, 2009
ratings: 29

tags: hindi
language: hi

Chand lamhon ki zindagani hai,
nafraton se jiya nahi karte,
lagta hai dusamanon se guzarish karni padegi,
dost to aab yaad kiya nahi karte
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.82824

average: 10.0

on: Mar 22, 2018
ratings: 28

language: hi

एक गिलास पानी
.
उस सरकारी कार्यालय में लंबी लाइन लगी हुई थी। खिड़की पर जो क्लर्क बैठा हुआ था, वह तल्ख़ मिजाज़ का था और सभी से तेज़ स्वर में बात कर रहा था। उस समय भी एक महिला को डांटते हुए वह कह रहा था, "आपको ज़रा भी पता नहीं चलता, यह फॉर्म भर कर लायीं हैं, कुछ भी सही नहीं। सरकार ने फॉर्म फ्री कर रखा है तो कुछ भी भर दो, जेब का पैसा लगता तो दस लोगों से पूछ कर भरतीं आप।"
एक व्यक्ति पंक्ति में पीछे खड़ा काफी देर से यह देख रहा था, वह पंक्ति से बाहर निकल कर, पीछे के रास्ते से उस क्लर्क के पास जाकर खड़ा हो गया और वहीँ रखे मटके से पानी का एक गिलास भरकर उस क्लर्क की तरफ बढ़ा दिया।
क्लर्क ने उस व्यक्ति की तरफ आँखें तरेर कर देखा और गर्दन उचका कर ‘क्या है?’ का इशारा किया। उस व्यक्ति ने कहा, "सर, काफी देर से आप बोल रहे हैं, गला सूख गया होगा, पानी पी लीजिये।
क्लर्क ने पानी का गिलास हाथ में ले लिया और उसकी तरफ ऐसे देखा जैसे किसी दूसरे ग्रह के प्राणी को देख लिया हो, और कहा, "जानते हो, मैं कडुवा सच बोलता हूँ, इसलिए सब नाराज़ रहते हैं, चपरासी तक मुझे पानी नहीं पिलाता..."
वह व्यक्ति मुस्कुरा दिया और फिर पंक्ति में अपने स्थान पर जाकर खड़ा हो गया।
शाम को उस व्यक्ति के पास एक फ़ोन आया, दूसरी तरफ वही क्लर्क था, उसने कहा, "भाईसाहब, आपका नंबर आपके फॉर्म से लिया था, शुक्रिया अदा करने के लिये फ़ोन किया है। मेरी माँ और पत्नी में बिल्कुल नहीं बनती, आज भी जब मैं घर पहुंचा तो दोनों बहस कर रहीं थी, लेकिन आपका गुरुमन्त्र काम आ गया।"
वह व्यक्ति चौंका, और कहा, "जी? गुरुमंत्र?"
"जी हाँ, मैंने एक गिलास पानी अपनी माँ को दिया और दूसरा अपनी पत्नी को और यह कहा कि गला सूख रहा होगा पानी पी लो... बस तब से हम तीनों हँसते-खेलते बातें कर रहे हैं। अब भाईसाहब, आज खाने पर आप हमारे घर आ जाइये।"
"जी! लेकिन , खाने पर क्यों?"
क्लर्क ने भर्राये हुए स्वर में उत्तर दिया,
"जानना चाहता हूँ, एक गिलास पानी में इतना जादू है तो खाने में कितना होगा?"
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.82824

average: 10.0

on: Nov 15, 2011
ratings: 28

language: hi

भगवान जब दुनिया बना रहे थे ....
एक गधा (donkey) बनाते है और कहते है - तू दिन रात काम करेगा , अपनी अक्ल का इस्तेमाल नहीं कर सकेगा , सुबह से शाम तक सबका बोझ उठाएगा और सबसे गाली खायेगा . मैं तुझे 50 साल की उम्र देता हूँ
. गधा कहता है - भगवानजी उम्र कम कर दो मुझे बस 20 साल दो . भगवान कहते हैं - तथास्तु .


फिर एक कुत्ता बनाते है - तू अपने मालिक का वफादार रहेगा , तुझे जो खाने को डालेगे वो खा लेगा , घर की रखवाली करेगा . में तुझे 30 साल उम्र देता हूँ . कुत्ता कहता है - उम्र कम कर दो , बस 15 साल दे दो . भगवान कहते हैं - तथास्तु .


फिर एक बन्दर बनाते हैं - तू एक डाल से दूसरी डाल पर कूदता रहेगा . बच्चों का मन बहलायेगा , करतब दिखायेगा . में तुझे 20 साल उम्र देता हूँ . बन्दर केवल 10 साल मांगता है . भगवान कहते हैं - तथास्तु .


अंत में आदमी बनाते है - तू धरती पर सबसे अकलमंद होगा , सब पर राज करेगा , हँसता खेलता जीवन होगा . में तुझे 20 साल उम्र देता हूँ . आदमी कहता है - भगवानजी ये तो बहुत कम है . उम्र कुछ बड़ा दो ..भगवान कहते हैं - तथास्तु .

आदमी की उम्र बढ जाती है . वो 20 साल तो अपने जीवन को जीता है , फिर 30 साल गधे के (शादी करता है , बच्चे होते है , नौकरी करता है , पैसा कमाने के चक्कर में गधा बन जाता है ). फिर 15 साल कुत्ते के जीता है (retire हो जाता है , बेटा बहु जो डाल देते है वो खा लेता है , उनके घर की रखवाली करता है ) और बाकि के 10 बन्दर के जीता है (कभी एक बेटे के घर से दुसरे बेटे के घर , उनके बच्चों का मन बहलाता है )


............ तो अपने जीवन के हमारे पास बस बचपन के 20 साल हैं ..........
 
Rate & comment on this.
 
 
score: 9.8229

average: 10.0

on: Jan 18, 2013
ratings: 27

tags: KHUSHI
language: hi

KHUSHI socho toh ek Lamha, Jeeyo toh Zindagi.

KHUSHI paaya toh ek Ehsaas, Ganwya toh Fakat Hansi.

KHUSHI dekho to Muskurahat, Mahsoos karo toh Nami.

KHUSHI gungunao toh ek Nagma, Bhulao toh Kuch Unkahi.

KHUSHI mango toh Ibadat, Mile toh Khuda ki Rahmat.
 
Rate & comment on this.
 
 
<<1  [2]  3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20  >>