..............घटबन्धन.......................

by: sharu------ . (on: May 29, 2018)
Category: Poem   Language: Hindi
tags: SHARU...शरू ,,,,n ....Raj
..............घटबन्धन.............
१.
लोगों ने पूर्ण मत न दिया इस बार
अब होगयी घटबन्धन की सरकार
कभी भी हाथ झटक सकता है कांग्रेस
क्या उम्मीद करे ऐसी सरकार से जो है बेबस ..?.....by ....शरू
xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
क्योंकि यहाँ गठबन्धन की सरकार की थी दरकार
और पहले भी तो कई बार बनी है ऐसी सरकार
अब करे भी तो क्या करें यही है इस देश की व्यथा
बहुत दयनीय.है इस देष की लचर व्यवस्था ॥
.....................................................................राजेश ॥//६.१२पम
xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
२.
अब नेता बनाये हैं सर्कार जोड़ तोड़के
मगर मन ही मन रो रहे होंगे वे भी
हम क्यों इंकेलिए जी तोड़ काम करे
इन्होने मन से वोट न दिया है हमें .....................शरू ६.१८ प म
xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
यह तो राजनीति की कहानी है
वादों से मूकर्ना इनकी बानी है
ठगी जाती हर बार भोली जनता
आँखो में बस उम्मीद और पानी है
..................................................................राजेश ॥६.२५ पं
xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
३.
देश के लोग भी कब जागेंगे
कब तक अपनी वोट बेचते रहेंगे ..?
कब सीख लेंगे..? अपना हिम्मत
और ताकत की इस्तेमाल कब करेंगे ..?............शरू ६.२९ पं
xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
जनता है इस देश की भोली भाली
अपने.वोट के ताकत से बिल्कुल अंजान
अगर ज़रा सा भी ले.अगर समझ से काम
तो पहुँचा दे नेताओं को जो भी है उनका अंजाम ॥
................................................................राजेश ॥६.३८ प म....29.5.18
score: 9.37792
average: 10.0
Ratings: 3
 
« send to friends»
URL (link) to this writing. You can copy and paste this in your email to send to your contacts:
 
Not good
Ok
Excellent!
 
 
 

Comments

[View All Comments]
 
432 days ago
 
 
799 days ago
Rating: 10
 
 
801 days ago
tnx RAJ JI
 
 
801 days ago
Bhut hi Sach likha hai aap dono ne
 
 
801 days ago
Rating: 10
 
 
801 days ago
tnx YOSHO JI
 
 
801 days ago
Very right and well described.अगर ज़रा सा भी ले.अगर समझ से काम
तो पहुँचा दे नेताओं को जो भी है उनका अंजाम ॥
 
 
801 days ago
Rating: 10
 
 
802 days ago
Ok
 
[View All Comments]