ऐ ‘ख़ुदा’ तू कभी इश्क न करना.. बेमौत मरा जायेगा

by: Sham .. (on: Jun 22, 2018)
Category: Other   Language: Hindi
tags: ‘ख़ुदा’ तू कभी इश्क करना.. बेमौत मरा जायेगा
“किसकी पनाह में तुझको गुज़ारे ऐ जिंदगी,
अब तो रास्तों ने भी कह दिया है, कि घर क्यों नहीं जाते !”

“ना जाने क्या कमी है मुझमें,
ना जाने क्या खूबी है उसमें, वो मुझे याद नहीं करती,
मैं उसको भूल नहीं पाता”

“ऐ ‘ख़ुदा’ तू कभी इश्क न करना.. बेमौत मरा जायेगा !
हम तो मर के भी तेरे पास आते है पर तू कहा जायेगा”
score: 9.30162
average: 10.0
Ratings: 2
 
« send to friends»
URL (link) to this writing. You can copy and paste this in your email to send to your contacts:
 
Not good
Ok
Excellent!
 
 
 

Comments

[View All Comments]
 
773 days ago
Wah bahut khoob
 
 
773 days ago
Rating: 10
 
 
777 days ago
Thanks sainny ji
 
 
777 days ago
wo khuda hei sb sambhal lenge sham ji by the way v well written..bht khub..likhte rahiye
 
 
777 days ago
Rating: 10
 
 
778 days ago
किसकी पनाह में तुझको गुज़ारे ऐ जिंदगी,
अब तो रास्तों ने भी कह दिया है, कि घर क्यों नहीं जाते !”
 
[View All Comments]