कैसे कह दूँ....

by: 📒My Diary✍❤My Life✍ ✍.. (on: Aug 12, 2018)
Category: Other   Language: Hindi
tags: कैसे कह दूँ
माना बरसो से तुम साथ हो मेरे
न मेरी राहों पे तुम्हारे क़दमों के निशाँ हैं
न मेरी मँजिलों का पता है तुम्हें
कैसे कह दूँ जान! मैं हमसफर तुम्हें
माना बरसों से रखते हो तुम ख़याल मेरा
न मेरे जज़्बातों की है ख़बर तुम्हें
न मेरे लफजों की है क़दर तुम्हें
कैसे कह दूँ जान !मैं हमनवां तुम्हें
माना बरसो से रिश्ता है तुम्हारा मेरा
न मेरी मुस्कराहट में खिलखिलाते हो
न मेरे अश्क़ अपने काँधे पे सजाते हो
कैसे कह दूँ जान! मैं हमनशीन तुम्हें
माना बरसों से मुझमें बसा घर है तुम्हारा
न मेरी दिवारों पे यादें सजाते हो
न मेरे आँगन में रजनीगंधा महकाते हो
कैसे कह दूँ जान! मैं हमनफस तुम्हें
score: 9.37792
average: 10.0
Ratings: 3
 
« send to friends»
URL (link) to this writing. You can copy and paste this in your email to send to your contacts:
 
Not good
Ok
Excellent!
 
 
 

Comments

[View All Comments]
 
835 days ago
Rating: 7
 
 
837 days ago
न मेरी राहों पे तुम्हारे क़दमों के निशाँ हैं
न मेरी मँजिलों का पता है तुम्हें ...
 
 
837 days ago
Rating: 10
 
 
838 days ago
Rating: 10
 
[View All Comments]