दिल की जमी पे जब फसल यादों की बोओगे ...

by: upendra Singh (on: Oct 7, 2018)
Category: Poem   Language: Hindi
tags: friends
जिससे जितना प्यार करोगे उतना रौओगे
दिल की जमी पे जब फसल यादो की बोओगे

एक फूल का दर्द उसकी जुकि डाली समझते हे,
बाग की बात बाग का माली ही समझते हे,
ये किस तरह की रात बनाई हे दुनियावाले ने,
दिए का दिल जलता हे और लोग रोशनी समजते हे |

कैसा होता दर्द टूटने का एक डाली से पूछो
पतझड़ आने की पीड़ा तुम हरयाली से पूछो
एक कली खिलने से पहले कोई तोड़ ले जाए
क्यों गुम-सुम सा हो जाता है उस माली से पूछो.....
.....
.....पा जाओगे सब कुछ खुद को जितना खोओगे
दिल की जमी पे जब फसल यादों की बोओगे ....
score: 9.66783
average: 9.92308
Ratings: 14
 
« send to friends»
URL (link) to this writing. You can copy and paste this in your email to send to your contacts:
 
Not good
Ok
Excellent!
 
 
 

Comments

[View All Comments]
 
780 days ago
Rating: 9
 
 
780 days ago
पा जाओगे सब कुछ खुद को जितना खोओगे
दिल की जमी पे जब फसल यादों की बोओगे
lajawab
 
 
780 days ago
Rating: 10
 
 
780 days ago
Well written as it is 100% true
 
 
780 days ago
Rating: 10
 
 
780 days ago
" कैसा होता दर्द टूटने का एक डाली से पूछो
पतझड़ आने की पीड़ा तुम हरयाली से पूछो ..."
Wah...wah...Janab
 
 
780 days ago
Rating: 10
 
 
780 days ago
कैसा होता दर्द टूटने का एक डाली से पूछो
पतझड़ आने की पीड़ा तुम हरयाली से पूछो
एक कली खिलने से पहले कोई तोड़ ले जाए
क्यों गुम-सुम सा हो जाता है उस माली से पूछो....!
Awesome lines..
 
 
780 days ago
Rating: 10
 
 
780 days ago
Thanks to all of you
 
 
780 days ago
This is the real situation of heart when it pains. A true condition is shown in this poem.
 
 
780 days ago
Nice
 
 
780 days ago
nice
 
 
780 days ago
Rating: 10
 
 
780 days ago
awsm write up
 
 
780 days ago
Rating: 10
 
 
780 days ago
outstanding
 
 
780 days ago
Superb
 
 
780 days ago
Rating: 10
 
 
781 days ago
nice
 
 
781 days ago
Rating: 10
 
 
781 days ago
जिससे जितना प्यार करोगे उतना रौओगे
दिल की जमी पे जब फसल यादो की बोओगे..touchy
 
 
781 days ago
Rating: 10
 
 
781 days ago
Wow! Slaute you. Thank you sharing.
 
 
781 days ago
Rating: 10
 
[View All Comments]