...................कायराना दुस्साहस ?............

by: Rajesh singh (on: Feb 15, 2019)
Category: Poem   Language: Hindi
tags: Raj -Pahadisher
.कायराना दुस्साहस ? ?

पुलवामा में देश के दुश्मनों ने दिया बर्बरता को अंजाम ।
चालीस सेनिकों का खून बहाकर किया नीचता भरा काम ॥

इनके सात पुश्तै याद करें ऐसी दो इन दहशतगर्दों को सजा ।
फिर कभी भारत की तरफ ना देखें चखा दो ऐसा मजा ॥

जो बहा है खून शहीदों का वो पवित्र खून जाने ना पाए जाया ।
जो पाल रहा है इन दहशतगर्दों को उस मुल्क का ही करदो सफाया॥

इस नामुराद ओछी हरकत से इस देश को डरा ना पाओगे ।
कट जाए जो देश की आन के लिए उस सर को झुका ना पाओगे

जिसने अपना बेटा, भाई, पति खोया है होगी नहीं उनकी भरपाई।
फिर भी देश की आन के लिए जान देने में पिछे नहीं हटेगा फौजी भाई ॥

पुलवामा में दहशतगर्दों ने की है जो नीच हरकत करते हैं उसकी निंदा ।
पर खाते हैं आज कसम उन गुनाहगारों में एक भी ना बच पाए जिंदा ॥

अमर शहीदों की कुर्बानी में जहाँ पूरे देश की आँखे हुई है नम ।
वहीं शहीदों के अपनों की छाती हुई चौड़ी, भले हो अपनों को खोने का गम ॥
.................................................................................द्वारा............राजेश सिंह ॥
score: 9.59768
average: 10.0
Ratings: 8
 
« send to friends»
URL (link) to this writing. You can copy and paste this in your email to send to your contacts:
 
Not good
Ok
Excellent!
 
 
 

Comments

[View All Comments]
 
531 days ago
Rating: 10
 
 
533 days ago
thx
 
 
533 days ago
Rating: 6
 
 
538 days ago
super
 
 
538 days ago
Rating: 10
 
 
539 days ago
TNX YOSHO SIR,,,,,,,,FOR A WONDERFUL FEEDBACK
 
 
539 days ago
TNX TO ALL FRIENDS FOR NICE COMMENTS
 
 
540 days ago
very well said Beautiful tribute
 
 
540 days ago
Rating: 10
 
 
540 days ago
Nice. Shaheedon ko sat sat naman.
 
 
540 days ago
Rating: 10
 
 
540 days ago
Anu
Dil se dua karti hu unn saare jawanon ke liye
 
 
540 days ago
Anu
Rating: 10
 
 
540 days ago
Beautiful tribute to the Martyrs of the Pulwama terrorist attack on the convoy of Security Forces in J&K. Any amount of condemnation will be less to describe the nefarious activity. May the souls of the Martyr's rest in Peace. They have given the highest sacrifice. Thank you Raj and Sharu .
 
 
540 days ago
Rating: 10
 
 
540 days ago
AWESOME bhashpanjali to our soldiers RAJ....very well written .
 
 
540 days ago
Rating: 10
 
[View All Comments]