...नारी नहीं अब बेचारी.:---

by: Rajesh singh (on: Mar 7, 2019)
Category: Poem   Language: Hindi
tags: Raj -Pahadisher
......नारी नहीं अब बेचारी.:----

यह ख्याल आया, नारी नहीं हो तो क्या होता हाल ?
कैसे चलती ये दुनिया, कैसे चलती ये कायनात ?
प्यार की सूरत है, ममता की मूरत है नारी,
कौन केह्ता है अबला है ? अब नारी नहीं है बेचारी,

जिंदगी के हर मोड पर पुरुष से कंधा मिलाकर,
साथ साथ चलती है वो पुरुष को संभालकर,
आज हर क्षेत्रा मे पुरुष से पीचे नहीं है,
राजनेत्री, अभिनेत्री, खेल हो या पढ़ाई, नीचे नहीं है,

जन सेवा हो या सेना, हर जगह अपना रंग जमाया है,
अंतरिक्ष हो या हिमालया, अपना परचम लहराया है,
पर ये तो बस सिक्के का एक पहलू है यार,
नारी को नहीं मिला सम्मान जिसकी है वो हक़दार,

आज भी अपनी बेबसी पर नारी कहीं रोती है,
नारी अब भी अपने सिर पर मैला धोती है,
हर वर्ग मे पुरुषो द्वारा शोषित होती है कामिनी,
सरे आम सामूहिक दुष्कर्मा का शिकार होती है दामिनी,

पैदा होने से पेहले ही कोख मे मार दिया जाता है,
कहीं खिलने से पेहले ही उन्हे मसल दिया जाता है,
तक कर निढाल होती है पर कभी रुकती नहीं है,
ढेरो जुल्मो सितम सेहकर भी कभी टूटती नहीं है,

दुनिया की हर नारी के लिये मेरा यह कलाम है,
अंतराष्ट्रिया महिला दिवस पर नारी को मेरा सलाम है.
............... ............... ................................by . राजेश सिंह

( अंटरास्ट्रिया महिला दिवस पर ...... विशेष कविता )
score: 9.48946
average: 10.0
Ratings: 5
 
« send to friends»
URL (link) to this writing. You can copy and paste this in your email to send to your contacts:
 
Not good
Ok
Excellent!
 
 
 

Comments

[View All Comments]
 
498 days ago
नारी ना कभी कमजोर थी, ना है और ना होगी। बस वो situation के हिसाब से समझौता कर लेती है.... तो ये उसकी कमजोरी नही।
 
 
498 days ago
Rating: 10
 
 
624 days ago
Right
 
 
624 days ago
Right
 
 
624 days ago
Rating: 10
 
 
624 days ago
कौन केह्ता है नारीअबला है ?
प्यार की सूरत है नारी, ममता की मूरत है नारी,
True to each word, Wonderully written Rajeshji,
Thanks to you and Sharu for sharing. A befitting tribute to Women on the occasion of International Women's Day
 
 
624 days ago
Rating: 10
 
 
624 days ago
Excellent
 
 
624 days ago
waqt ki nhi hai ab maari....
ghar se nikal rahi hai ab naari....
jaha dekho ab har taraf hai aaj ki naari...
tiktok pe chhayi hai ye nutan naari....
hawa ki bayar ab shuru hai....
naari ki lahar ab shuru hai...
 
 
624 days ago
Rating: 10
 
 
624 days ago
tnx RAJ..........yeh sach hai aajka naari har kshetr me kaam kartihai..bechari bhi nahi hai
 
 
624 days ago
Rating: 10
 
[View All Comments]