दोस्त

by: 📒My Diary✍❤My Life✍ ✍.. (on: Nov 13, 2019)
Category: Other   Language: Hindi
tags: My Diary

है एक दोस्त जो रखता है ख़बर मेरी…..

ख़ामोश पढ़ता है वो हाल मेरा

दबे पाँव आता है फिर लौट जाता है

न अश्क़ों को मेरे देता है अब वो काँधा

न लबों पे मेरी मुसकान बुलाता है

मेरे नाम को आवाज़ नहीं देता है वो

न अब मरहम मेरे ज़ख़्मों पे लगाता है

है शायद बहुत नाराज़ वो मुझसे

रूठ गयें हैं लफ़्ज़ भी जो मनाते उसे

खामोश लिखती हूँ मैं हाल अपना

है एक दोस्त जो रखता है अब भी ख़बर मेरी……..
score: 9.43918
average: 10.0
Ratings: 4
 
« send to friends»
URL (link) to this writing. You can copy and paste this in your email to send to your contacts:
 
Not good
Ok
Excellent!
 
 
 

Comments

[View All Comments]
 
372 days ago
Rating: 10
 
 
379 days ago
Very nice
 
 
379 days ago
Rating: 10
 
 
380 days ago
Rating: 10
 
 
380 days ago
yes..b i am lucky to have😊
 
 
380 days ago
Aisa dost bahut khusnasib ko milta hai
 
 
380 days ago
Rating: 10
 
[View All Comments]