Respect to all girls

by: MAHI :-) don't like chat (on: Apr 24, 2020)
Category: Other   Language: Hindi
tags: Friends
respect to all girls

प्लीज एक बार जरूर पढे 👇👇👇👇👇👇

क्या हुआ??

इतनी रात तक online हो? 1 बज रहे है। नींद नही आ रही है क्या?
पति घर पर नही है या बनती नही है उनसे?
ध्यान नही देते क्या तुमपे?
जवाब नही दो तो-क्या हुआ? Busy हो कहीं??? किसी और से बात कर रही हो???
या फिर कहेंगे हमसे भी बात कर लिया करो। इतने बुरे हैं क्या हम। सबसे तो करती हो।
तो इस सवाल का एक ही जवाब हैं ।
मैं एक औरत हूँ ...
लेकिन एक इंसान भी हूँ ..।
मुझे अपनी मर्जी से जीने का पूरा हक हैं ।
मुझे जो - जो पसंद आता हैं मैं वो करती हूँ
या फ़िर मुझे जिससे खुशी मिलती हैं वह करती हूँ..

और मुझे ये सब आता भी हैं...
ये सब करने के पीछे ऐसा कोई कारण होता हैं...
ऐसा कुछ नही होता...
बस मुझे इन छोटी - छोटी चीजो से खुशी मिलती हैं ।
जरूरी नही सिर्फ चैटिंग ही की जाए। बहुत लोग सिर्फ चैटिंग चैट करने नहीं बल्कि पोस्ट पढ़ने आते है,,,कोई लेख, कोई अच्छी पोस्ट, या कोई सुविचार रात मे पढ़ना कोई गुनाह है क्या? दिन भर की जद्दोज़हद के बाद यदि रात मे कुछ समय हम अपने लिए व्यतीत करे तो क्यो बुरा लगता है आप लोगो को...
वही काम आप करे तो हम तो सवाल नही उठाते।
फिर आप लोग क्यो?
मुझे तो इसमें कोई बुराई नजर नही आती।

आपको भी जमता हैं ,तो आप भी ये सब कीजिए
खूब देर रात online रहिए,
और नही जमता तो....
किसी भी औरत के ऊपर बेमतलब के आरोप मत लगाइये
और किसी भी प्रकार का लेबल
मत लगाइये उसके ऊपर

बस इतना ही....

🙏मै सिर्फ उन पुरुषो की बात कर rahi हूँ जो ऐसी सोच रखते है.
score: 9.30162
average: 10.0
Ratings: 2
 
« send to friends»
URL (link) to this writing. You can copy and paste this in your email to send to your contacts:
 
Not good
Ok
Excellent!
 
 
 

Comments

[View All Comments]
 
71 days ago
If u r married n have a son, Plz start educating him. Start from ur home 1st. Kyon ki soch aur sanskar tho ghar se shuru hota hai .. & in d process of educating lot of sons by letting them know the important of a woman in their childhood, I believe things would change drastically. The moral of the story is ...Parents should show Love, respect, care n all the positive attributes for each other at home bcz kids learns max of things from home. Jaise bhej waisa phal :-)
 
 
71 days ago
Rating: 10
 
 
77 days ago
एकदम सही लिखा है आपने, रात को 1 बजे तक ऑनलाईन रहना कोई गुनाह नही है, मानसिकता बदलने की जरुरत है...
 
 
77 days ago
Rating: 10
 
[View All Comments]